अब दिल्ली की सड़कों पर कम दिखेंगे अवारा कुत्ते

0
77

 

नई दिल्ली। राजधानी की सड़कों पर अब आपको आवारा कुत्ते परेशान करते हुए नहीं दिखेंगे क्योंकि उत्तरी दिल्ली नगर निगम इन आवारा कुत्तों को लेकर काफी गंभीर नजर आ रही है. उत्तरी दिल्ली निगम ने तिमारपुर और बेला रोड पर कुत्तों के बंध्याकरण की व्यवस्था की है ।

जहां हर महीने 2500 से 3000 कुत्तों का बंध्याकरण किया जाएगा. इससे पहले हर महीने 1500 कुत्तों का बंध्याकरण किया जा रहा था. उत्तरी निगम निगम द्वारा कुत्तों के लिए बंध्याकरण केंद्र खोले जाने से लोगों को इनके कारण होने वाली तमाम दिक्कतों से राहत मिलने की सम्भावना है।

नवनिर्मित कुत्तों के बंध्याकरण केन्द्र का निरीक्षण करने पहुंची उत्तरी दिल्ली नगर निगम में स्थायी समिति की अध्यक्ष वीना विरमानी ने कहा कि बंध्याकरण केन्द्र के चालू होने के बाद कुत्तों के बंध्याकरण की क्षमता बढ़ जाएगी. ये क्षमता प्रति माह 1500 से बढ़कर 2500-3000 तक हो जाएगी।

[कुत्तों की संख्या पर नियंत्रण के लिए किया निरीक्षण]
निरीक्षण के दौरान विरमानी ने आलाधिकारियों को निर्देश दिए कि जल्द से जल्द इन केंद्रों को चालू किया जाए ताकि कुत्तों की दिनोंदिन बढ़ रही संख्या को नियंत्रित किया सके और लोगों को इन आवारा आवारा कुत्तों की मौजूदगी में होने वाली तमाम तरह की दिक्कतों को दूर किया जा सके और स्थानीय लोगों को इन आवारा कुत्तों के आतंक से राहत मिल सकें।

[निगम कुत्तों की संख्या पर गंभीर]
निगम में स्थायी समिति की अध्यक्ष वीना विरमानी ने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में बढ़ रही आवारा कुत्तों की संख्या को लेकर निगम काफी गंभीर है. इसलिए निगम द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं कि निगम के क्षेत्र अधिकार में कुत्तों द्वारा काटने और रेबीज संबंधी मामलों को नियंत्रित किया जा सके।

इस निरीक्षण के दौरान उत्तरी दिल्ली निगम में स्थायी समिति की अध्यक्ष वीना विरमानी के साथ क्षेत्रीय निगम पार्षद राजा इकबाल, अतिरिक्त आयुक्त स्वास्थ्य आर.एस. मीना, निदेशक पशु सेवाएं जगवीर के साथ निगम के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...