आक्रामक रणनीति के साथ चुनावी मैदान में उतरेगी कांग्रेस

महानगर संवाददाता
समाज के प्रतिष्ठित लोगों को पार्टी से जोडऩे पर रहेगा जोर
जयपुर। विधानसभा चुनाव में इस बार कांग्रेस बूथ से लेकर प्रदेश स्तर तक प्रभावी कैंपेन के साथ चुनावी मैदान में उतरेगी। इसकी योजना पर काम चालू हो गया है। कांग्रेस चुनाव में आक्रामक प्रचार रणनीति के साथ मैदान में उतरेगी। पहले चरण में चुनाव संचालन समिति के सदस्यों को काम का बंटवारा कर बूथ स्तर पर जाकर बैठक लेनी होगी। स्थानीय मुद्दे एकत्र किए जाएंगे। हर बूथ पर प्रबुद्ध और प्रभावशाली लोगों की सूची बनाकर उनसे संपर्क करने को कहा गया है। इन लोगों से प्रदेश के बड़े नेता स्वयं मिलने जाएंगे। मुख्यमंत्री-विधायकों और सांसदों की उन घोषणाओं का डाटा एकत्र किया जा रहा है जो पूरी नहीं हुईं। बूथ स्तर पर मुख्यमंत्री जवाब दो, पांच साल का हिसाब दो के कार्यक्रम, नुक्कड़ सभाएं आयोजित की जाएंगी। बेरोजगारी के आंकड़े एकत्र कर सरकार को घेरा जाएगा। महिलाओं की भागीदारी पर विशेष जोर दिया जाएगा। उन्हें पार्टी से जोडऩे के लिए घर-घर संपर्क किया जाएगा।
इन पर भी रहेगा फोकस: महिला स्वयं सहायता समूह, एनजीओ, किसान, गांव में प्रतिष्ठित व्यक्ति से पार्टी के प्रतिनिधि मिलकर उनके माध्यम से नए लोगों से संपर्क करेंगे।
भाजपा की तर्ज पर रथ यात्रा की योजना: प्रदेश में कांग्रेस सत्ता परिवर्तन के संकल्प को लेकर बस से यात्रा निकालने पर विचार कर रही है। यात्रा को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। यात्रा सितम्बर या अक्टूबर में शुरू किए जाने की योजना है जो प्रदेश के सभी जिलों की 200 विधानसभा सीटों पर पहुंचेगी। इसके लिए कांग्रेस का रथ (बस) तैयार है, पार्टी इसका उपयोग गुजरात और कर्नाटक चुनाव में कर चुकी है। ज्यादातर स्थानों पर पहुंचने का रोडमेप बनाया जा रहा है। सितम्बर में मध्यप्रदेश में भी यात्रा प्रस्तावित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...