आनंदपाल के दाहिने हाथ श्रीवल्लभ की जेल में मौत

0
76
आनंदपाल का करीबी श्री वल्लभ की आज जिले की सेंट्रल जेल में मौत हो गई. वल्लभ नागौर के डीडवाना का रहने वाला था. वल्लभ आनंदपाल के साथ मिलकर कई घटनाओं को अंजाम दे चुका है. हालांकि गिरफ्तार होने के बाद वल्लभ ने ही आनंदपाल पर कई संगीन आरोप लगाए थे और कई जानकारियां भी प्रशासन को उपलब्ध कराए थे।

इससे पहले वल्लभ के पास से जेल में ही मोबाइल बरामद हुए थे. फिलहाल वल्लभ की मौत का कारण हार्टअटैक बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि उसकी देर रात हार्टअटैक से मौत हो गई. हालांकि पुलिस ने उसके शव को जेएलएन अस्पताल के मोर्चरी में रखवा दिया है. डॉक्टर्स की रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा की आखिर में उसके मौत की वजह क्या रही।

वहीं मोर्चरी के आस-पास किसी को जाने नहीं दिया जा रहा है. फिलहाल वल्लभ के परिवार का कोई भी सदस्य अभी तक नहीं पहुंचा है. बताया जा रहा है कि उसके परिवार के आने के बाद ही उसका पोस्टमार्टम कराया जाएगा. उसके बाद उसके शव को परिजनों का सौंप दिया जाएगा।
उधर, कोई बड़ी घटना न हो उसके लिए पुलिस ने मोर्चरी के बाहर भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया है. साथ ही किसी को भी मोर्चरी के आस-पास जाने की इजाजत नहीं है।

स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप यानी एसओजी की पूछताछ में आनंदपाल के साथ 3 सितंबर 2015 को फरार श्रीवल्लभ ने चौंकाने वाले कई खुलासे किए थे. उसने बताया था कि आनंदपाल की फरारी में शामिल होने से अधिकतर साथियों के परिवार बर्बाद हो गए. उसकी ही बेटी ननिहाल में रह रही है. वल्लभ ने बताया था कि उसने साथियों से ज्यादा खुद के परिवार का ध्यान दिया।

आत्महत्या का किया था प्रयास
पंजाब के मोली से श्रीवल्लभ सूरत में ठिकाना बनाकर रह रहा था. बीमार और आर्थिक तंगी से परेशान होकर उसने सूरत में आत्महत्या करने की ठान ली थी. वो सूरत में उस रेलवे ट्रैक पर आत्महत्या करने पहुंच गया था, जहां पर हर दस मिनट तक ट्रेन गुजरती थी. उस दिन ट्रेन लेट हो गई. वो करीब 25 मिनट तक रेलवे ट्रैक पर लेटा रहा. जीआरपी सूरत ने उसके खिलाफ कार्रवाई भी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...