आवाज में दम से मिलती है दमदार सैलरी

नई दिल्ली। इंसान की पहचान का एक बेहद अहम पहलू है, जितने इंसान, उतने ही तरह की आवाज़ें और लोगों के बोलने का तरीका। आवाज का  तनख्वाह से कोई ताल्लुक है।
आपकी आवाज का आपकी सैलरी यानी ततनख्वाह से गहरा ताल्लुक होता है।

लेकिन ये तय कैसे होता है? और किस तरह की होती है

उनकी आवाज जो करोड़ों रुपयों की कमाई करते हैं?

हाल ही में अमरीका के 792 पुरुषों की आवाज रिकॉर्ड की गई। वो सभी किसी न किसी कंपनी के सीईओ थे।

उनकी आवाज का और उनकी सैलरी का विश्लेषण किया गया।

इस रिसर्च के बेहद दिलचस्प नतीजे सामने आए हैं।

जो सीईओ 125 हट्जऱ् वाली आवाज़ में बोलते हैं, उनकी सैलरी उन सीईओ के मुकाबले 126 लाख रुपए ज़्यादा थी,

जो इससे ज्यादा तेज आवाज में बोलते हैं।

सीईओ की आवाज की पिच का ताल्लुक कंपनियों की कीमत से भी जुड़ा पाया गया।

गहरी आवाज  में बोलने वाले सीईओ की कंपनी की कीमत दूसरी कंपनियों से 2 हजार 90 करोड़ रुपए ज्यादा देखी गई।

इस सर्वे में महिला सीईओ शामिल नहीं थीं. इसकी एक वजह ये भी है कि महिला सीईओ अभी हैं ही बहुत कम।

लेकिन गहरी आवाज़ होने के फायदे महिला सीईओ को भी होते हैं।तो,

आखऱि क्या वजह है कि हमारी आमदनी का सीधा ताल्लुक़ हमारी आवाज से है?
कुछ वैज्ञानिक इसे हमारे विकास की प्रक्रिया का हिस्सा मानते हैं।
अमरीका की ड्यूक यूनिवर्सिटी के विलियम मेव कहते हैं कि
विकास की प्रक्रिया के दौरान गहरी आवाज़ वाले अक्सर मुकाबले में अव्वल आते थे।
जब इंसान संसाधनों के लिए लड़ाई लड़ रहा था,
तो आवाज भी उसमें बहुत अहम रोल निभा रही थी।
Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...