इथियोपिया और मिस्र में बात बनी…बांध पर मतभेदों का हल

काहिरा। इथियोपिया और मिस्र के नेताओं ने नील नदी पर बांध के निर्माण को लेकर अपने मतभेदों को दूर करने की बात कही है। इथियोपिया
नील नदी पर एक बांध का निर्माण कर रहा है

जिसे लेकर मिस्र ने चिता जताई है। मिस्र का कहना है कि यह बांध उसकी जल

आपूर्ति के लिए खतरा पैदा कर सकता है।

इथियोपिया की चार अरब डॉलर की लागत वाली ग्रैंड रेनेसंस डैम

नामक जलविद्युत परियोजना पर वार्ता कई महीनों के लिए ठंडे बस्ते में पड़ी रही।

इससे इथियोपिया की चार अरब डॉलर की लागत वाली ग्रैंड रेनेसंस डैम नामक

जलविद्युत परियोजना पर वार्ता कई महीनों के लिए ठंडे बस्ते में पड़ी रही।

लेकिन काहिरा में रविवार को एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन के दौरान इथियोपिया
के प्रधानमंत्री अबी अहमद और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल-सीसी ने संकेत दिया है कि

उन्होंने इस मुद्दे से जुड़े मतभेदों का हल निकाल लिया है।

अल-सीसी ने कहा कि हम आपसी विश्वास और द्बिपक्षीय सहयोग को मजबूत बनाने की दिशा में एक लंबा सफर तय कर चुके हैं।

अहमद ने कहा कि इथियोपिया मिस्र के साथ नील नदी के पानी को साझा करने के लिए प्रतिबद्ध है

Read Also:

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...