…इस कारण बीसीसीआई लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड नहीं लेंगी पूर्व महिला क्रिकेटर डायना इडुल्जी

0
44

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्‍त प्रशासकों की समिति (सीओए) की सदस्य डायना इडुल्जी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा दिए जाने वाले कर्नल सीके नायडू लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड को नहीं लेने का फैसला किया है. बीसीसीआई की ओर से शनिवार को एक बयान जारी कर इस पुरस्कार के लिए डायना के नाम की सिफारिश की थी. लेकिन इसके कुछ ही घंटों बाद इडुल्जी ने पुरस्कार ग्रहण नहीं लेने का फैसला किया. बीसीसीआई की समिति ने डायना के साथ भारत के पूर्व कप्तान दिवंगत पंकज रॉय, भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज और कोच अंशुमान गायकवाड़ और महिला टीम की पूर्व कप्तान और कोच सुधा शाह को भी पुरस्कार देने की सिफारिश की थी.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की दिग्‍गज ऑलराउंडर रहीं डायना ने एक बयान में कहा, “मुझे पता चला है कि बीसीसीआई की समिति (जिसमें बीसीसीआई के अधिकारी और पत्रकार एन. राम शामिल हैं) ने मुझे इस पुरस्कार के लिए नामित किया है. मैं यह बात साफ कर दूं कि न ही मैं और न ही सीओए का कोई सदस्य इस समिति का हिस्सा है.” उन्होंने कहा, “चूंकि मैं सर्वोच्च अदालत द्वारा बनाई गई समिति का हिस्सा हूं, इसलिए मुझे नहीं लगता कि मेरे लिए यह पुरस्कार लेना सही होगा.”

उन्होंने कहा, “मैंने अपने परिवार और दोस्तों से भी इस बारे में बात की जिन्होंने मेरे सीओए के सदस्य रहते हुए इस पुरस्कार को न लेने के फैसला का पूरा समर्थन किया है.” उन्होंने कहा, “हालांकि मैं इसके लिए बीसीसीआई का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं कि उन्होंने मुझे इस सम्मान के लायक समझा” 62 वर्ष की डायना ऑलराउंडर की हैसियत से भारत की ओर से 20 टेस्‍ट और 34 वनडे मैच खेल चुकी हैं. टेस्‍ट मैचों में उन्‍होंने 404 और वनडे में उन्‍होंने 211 रन बनाए थे. इसके अलावा टेस्‍ट क्रिकेट में 63 और वनडे में 46 विकेट उनके नाम पर दर्ज हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...