एसएमएस में शुरू हुई मल्टीडिसीप्लेनरी रिसर्च लैब, हो सकेंगी जटिल जांच व रिसर्च

0
41

जयपुर। एसएमएस मेडिकल कॉलेज देश के उन चुनिंदा मेडिकल कॉलेज में शामिल हो गया है जहां मल्टीडिसीप्लेनरी रिसर्च लैब व वीआरएन लैब हैं। इन लैब के शुरू होने के बाद यहां वे रिसर्च और जांच भी हो सकेंगी जिनके लिए मरीजों के सैंपल पुणे या अन्य राज्यों में भेजे जाते थे।

– चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने सोमवार को एसएमएस मेडिकल कॉलेज परिसर में नवनिर्मित एकेडमिक भवन एवं मल्टीडिसीप्लेनरी रिसर्च लैब व वीआरएन लैब का उद्घाटन किया।

– उन्होंने बताया कि नवनिर्मित भवन का बिल्डअप एरिया 13 हजार 975 वर्ग किमी है व इसकी लागत 59.44 करोड़ है।

– भवन तीन मंजिल का है व इसमें एक ऑडिटोरियम, 6 लेक्चर थिएटर, एक केंटीन, 18 कमरे बनाए गए हैं। इन सुविधाओं से एसएमएस देश का सर्वश्रेष्ठ राजकीय मेडिकल कालेज बन गया है।

– उन्होंने बताया कि राजस्थान देश का पहला राज्य है जहां एक साथ नए 5 मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किए गए हैं।

– उन्होंने बताया कि इससे यहां एमबीबीएस की 500 सीट बढ़ी हैं। चिकित्सा मंत्री ने बताया कि प्रदेश में चिकित्सा की दृष्टि से अनेक महत्वपूर्ण निर्माण करवाए गए हैं।

कोटा में शुरू होगा कैंसर संस्थान

– जयपुर में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के साथ ही कोटा में भी कैंसर संस्थान शुरू किया जा रहा है।

– नवनिर्मित लैब में एक करोड़ रुपए की लागत से उपकरण प्रथम चरण में खरीद की गई है व दूसरे चरण में 2 करोड़ रुपए की लागत से उपकरण खरीदे जाएंगे।

– समारोह की अध्यक्षता स्वास्थ्य राज्य मंत्री बंशीधर खंडेला ने की।

– एसएमएस प्रिंसिपल डॉ यू एस अग्रवाल ने बताया कि एमसीआई ने इस मेडिकल कालेज की एमबीबीएस की सीट 150 से बढ़कर 250 कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...