कांग्रेस में पोस्टर वार तेज, राजधानी अव्वल

demo pic

महानगर संवाददाता
जयपुर। जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे कांग्रेसियों में टिकट की दावेदारी को लेकर होड़ तेज हो गई है। लगभग सभी विधानसभा क्षेत्रों में टिकट के दावेदारों ने अपने नाम-फोटो को विधानसभा क्षेत्र से जोड़कर पोस्टर और बैनर जगह-जगह लगवा दिए हैं। गाडिय़ों पर भी पोस्टर लगाए जा रहे हैं। यह स्थिति जयपुर ही नहीं पूरे प्रदेश की है। जयपुर में तो पोस्टर वार चरम सीमा की ओर है। पोस्टर वार के साथ सोशल मीडिया पर भी कैम्पेन तेज हो गए हैं। लेकिन कुछ विधानसभा सीटों में तो दावेदारों ने खुद को भावी उम्मीदवार ही घोषित कर दिया है। पीसीसी सचिव और अजमेर में शहर कांग्रेस की कमान संभाल चुके महेंद्र सिंह रलावता के समर्थन में कई जगह पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर संस्थाओं के नाम पर लगाए गए हैं। इन पोस्टर में कहा गया है कि जनता की यह मांग है कि रलावता को उत्तर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेसी पार्टी का प्रत्याशी बनाया जाए। इसी तरह कांग्रेस में सिंधी नेता के रूप में तेजी से उभर रहे दीपक हासानी के पोस्टर भी शहर भर में लगे नजर आए। हालांकि हासानी के पोस्टरों में टिकट की दावेदारी को लेकर कोई मांग नहीं है लेकिन उत्तर विधानसभा क्षेत्र में उनकी सक्रियता को इससे जोड़कर देखा जा रहा है।
शक्ति एप से जोड़ो-राहुल गांधी से करो संवाद
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के शक्ति प्रोजेक्ट को लेकर पूरे प्रदेश में कवायद तेज हो गई है। प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी सभी बैठकों में इस प्रोजेक्ट की चर्चा अवश्य कर रहे हैं। कांग्रेस पदाधिकारियों को निर्देश दिए गए हंै कि शक्ति एप प्रोजेक्ट से अधिकाधिक कार्यकर्ताओं जोड़ें। ऐप से सबसे ज्यादा कार्यकर्ता जोडऩे वाले को कांग्रेसाध्यक्ष से सीधा संवाद का अवसर मिलेगा। विधानसभा चुनावों में टिकट वितरण में उनसे फीडबैक भी लिया जाएगा। ऐप के माध्यम से कार्यकर्ता सीधे राहुल गांधी से जुड़ सकेंगे। शक्ति ऐप से कार्यकर्ताओं को 10 जुलाई तक ही जोड़ा जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...