किसान-व्यापारियों में हुई झड़प, कालाडेरा में प्रदर्शनकारियों ने बहाया दूध

श्रीगंगानगर/ कालाडेरा (जयपुर)। किसान आंदोलन का असर छठे दिन बुधवार को भी दिखा। श्रीगंगानगर में किसान व व्यापारी आमने-सामने आ गए तो जयपुर के कालाडेरा में दो-तीन स्थानों पर दूध सड़क पर बहाया गया। हालांकि जयपुर की मुहाना मंडी में सब्जी की आपूर्ति सुचारू रही, लेकिन ग्राहक नहीं दिखे। वहीं सरस डेयरी ने गोल्ड की सप्लाई दो दिन बाद शुरू कर दी।

– किसानों के बंद के बीच सब्जी मंडी में सब्जी लाने के मामले में श्रीकरणपुर में किसानों और व्यापारियों में विवाद हो गया। मामला इतना बढ़ गया कि आक्रोशित किसानों ने थाने के आगे धरना दे दिया।
– जानकारी के अनुसार सुबह कुछ किसान सब्जी मंडी में थोक व्यापारियों के यहां पहुंचे और आरोप लगाया कि रात को आपकी दुकान पर सब्जी आई थी जबकि हमने दूध और सब्जी की सप्लाई बंद कर रखी है। इस पर व्यापारी और किसान आपस में उलझ गए।

व्यापारियों का तर्क है कि किसान उन्हें अनावश्यक परेशान कर रहे हैं जबकि उनके पास कोई सब्जी नहीं आई। यहां किसान और व्यापारियों में हाथापाई हो गई। बताया जा रहा है कि व्यापारियों ने विवाद के बीच किसानों की दो बाइक वहीं रख लीं। इसके बाद वहां 400 से अधिक किसान थाने के सामने धरने पर बैठ गए।

श्रीगंगानगर सहित देशभर में किसान अपनी कृषि जिंसों के उचित मूल्य और स्वामीनाथन रिपोर्ट की सिफारिशें लागू करवाने के लिए आंदोलित हैं। एक से 10 जून तक किसानों ने गांव बंद आंदोलन शुरू कर रखा है।

– किसानों का कहना है कि जो चीज वे उत्पादित करते हैं उसका दाम कोई दूसरा क्यों लगाए? हम खुद तय करेंगे इसलिए किसान अनेक जगहों पर दूध और सब्जी खुद बेच रहे हैं।

– फिलहाल इस विवाद में किसानों की मांग है कि श्रीकरणपुर सब्जी मंडी को बंद कराया जाए। व्यापारी चाहते हैं कि उन्हें बेवजह परेशान न किया जाए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...