कैंसर की चपेट में हरियाणा के 4 जिले, 3 गांव, सैकड़ों लड़ रहे मौत से जंग

0
64
चंडीगढ़। बुजुर्गों की कहावत है कि ‘जीने के लिए दो चीजें बेहद जरूरी होती हैं, पीने के लिए पानी और सांस लेने के लिए शुद्ध हवा… लेकिन सोनीपत के गांव साबोली के लोग इन दिनों दोनों ही बुनियादी जरूरतों से महरूम दिखाई दे रहे हैं।

 
सोनीपत के एक गांव में कैंसर से 20 लोगों की मौत

सोनीपत का साबोली गांव भी कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी के चलते सुर्खियों में है. आस-पास के लोगों का ऐसा मानना है कि राई और कुंडली भी कैंसर की इस महामारी की चपेट में आ सकता है।

स्थानीय लोगों की मानें तो यहां पर कैंसर फैलने के पीछे की वजह कारखानों से निकलने वाला गंदा और जहरीला पानी है, जिसकी वजह से भू-जल जबरदस्त तरीके से प्रभावित हुआ और फसलों को भी बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है. हालात ये हैं कि डर के कारण लोग अपने पुरखों की जमीनों को छोड़ कर पलायन कर रहे हैं. शायद इसलिए क्योंकि ‘जान बची तो लाखों पाए’
कुंडली औद्योगिक क्षेत्र से सटे सबोली गांव में पिछले एक साल के दौरान 20 लोगों की कैंसर से मौत हो चुकी है. इसके अलावा 15 लोग ऐसे हैं जो इस जानलेवा बीमारी से जंग लड़ रहे हैं।
गांव के सरपंच सतपाल सिंह ने बताया कि बीमारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए ग्रामीणों ने इसकी शिकायत सीएम विंडो पर भी की है, मगर अभी तक इस संबंध में सरकार या प्रशासन की ओर से कोई भी संज्ञान नहीं लिया गया है. यही नहीं,  इसके अलावा लोगों ने हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (एचएसपीसीबी) को भी इस बाबत शिकायत भेजी है. HSPCB ने एक्शन लेते हुए मानकों को दरकिनार कर धुएं और केमिकल की शक्ल में जहर फैला रही दो से तीन फैक्ट्रियों पर कार्रवाई कर इन्हें बंद भी कराया।

नूंह, सोनीपत, सिरसा, कैथल, फतेहाबाद में कैंसर मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. बीते कुछ सालों में कैंसर की वजह से कई लोगों की मौत हो चुकी है।

लेकिन आज एक ऐसी सच्चाई से हम आपको रूबरू करवाएंगे, जो कड़वी ही नहीं बल्कि इतनी खतरनाक है कि जान लिए बिना साथ नहीं छोड़ती. इसकी गिरफ्त में आते ही इंसान की जिंदगी की उलटी गिनती शुरू हो जाती है. इसके खौफ के साए में ही बहुत से लोग बेमौत मर जाते हैं. कुछ लोग बेतहाशा महंगे इलाज के चलते मौत का इंतजार करते हैं. इसका नाम है कैंसर।
यूं तो हरियाणा के कई जिलों में कैंसर मरीज मिल जाएंगे, लेकिन चार जिलों के आंकड़े हैरान कर देने वाले हैं।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...