अधिकारियों का रवैया ऐसा ही रहा तो ध्वस्त हो जाएगी दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट

0
60

नई दिल्ली। सीलिंग मामले पर विभिन्न अथॉरिटी के रवैये से नाराज सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर दिल्ली ध्वस्त होती है तो हो जाने दो।

कोर्ट ने कहा कि अगर अधिकारियों का ऐसा ही रवैया रहा तो एक दिन दिल्ली ध्वस्त हो जाएगी। सख्त नाराजगी भरे लहजे में अदालत ने कहा कि जब अथॉरिटी ही कुछ नहीं करना चाहती तो कोर्ट को क्यों परवाह करनी चाहिए? कोर्ट ने यह टिप्पणी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अवैध निर्माण से संबंधित मामले पर सुनवाई के दौरान की।

बृहस्पतिवार को जस्टिस मदन बी लोकुर की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ को बताया गया कि अमर कॉलोनी में अवैध कब्जा है।

सरकारी जमीन, यहां तक कि लैंड एंड डेवलपमेंट ऑफिस की जमीन पर भी कब्जा है। इस पर पीठ ने कहा कि सरकारी जमीन पर कब्जा है, लेकिन उसे हटाने के लिए सरकारी एजेंसी कदम नहीं उठा रही है। क्या सरकार अवैध निर्माण को संरक्षण देना चाहती है।

केंद्र सरकार की ओर से पेश एडिशनल सॉलिसिटर जनरल एएनएस नादकर्णी ने बताया कि अवैध निर्माण को लेकर अमर कॉलोनी में सर्वे का काम पूरा हो चुका है।

इस पर पीठ ने एएसजी से पूछा कि कितने घरों का सर्वे किया गया और सर्वे अगस्त में पूरा हो गया है तो अब तक रिपोर्ट क्यों नहीं दाखिल की गई है? इसके बाद कोर्ट को बताया गया कि 800 घरों का सर्वे किया गया है। इस पर पीठ ने सर्वे की जानकारी मांगी।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...