कोचिंग दबाव ने एक बच्चे की और ले ली जान, पिता को किया था वीडियो कॉल

कोटा। कोचिंग स्टूडेंट के सुसाइड का सनसनीखेज मामला सामने आया है।

जिसमें एक युवक ने अपने पिता को वीडियो कॉल किया और उन्हीं के सामने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी।

सूचना पाकर कुन्हाड़ी थाना पुलिस ने मौके पर पहुंची और मृतक युवक के शव को

एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। जानकारी के अनुसार बाड़मेर निवासी

18 वर्षीय करण कोटा के कोचिंग संस्थान से मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहा था

और वह विकास नगर स्थित देवकीनंदन शर्मा के मकान में किराए से रहता है।

सुबह उसने अपने पिता उनमाराम को वीडियो कॉल किया और उन्हीं के सामने मफलर से फांसी का फंदा बनाकर पंखे से झूल गया।

अपने बेटे को फांसी लगाता देख परेशान पिता ने मकान मालिक देवकीनंदन को फोन किया।

जब तक मकान मालिक करण के कमरे में पहुंच पाता तब तक करण की जीवन लीला समाप्त हो चुकी थी।

उनकी सूचना पर कुन्हाड़ी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और करण को फंदे से नीचे उतारा।

इसके बाद एमबीएस अस्पताल में ले गए, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

उसके शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। वहीं परिजनों को इस बारे में सूचना दे दी गई है।

पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट पर मिला है,

लेकिन उसके बारे में पुलिस फिलहाल कुछ बताने से कतरा रही है।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...