थम लुआंग गुफा से बाहर आने को करनी होगी 1.2 मील गोताखोरी

  • उत्तर थाईलैंड की गुफा में पिछले 11 दिनों से फंसी फुटबॉल टीम अब खुश…जारी किया नया वीडियो
  • सभी को सुरक्षित बाहर निकालने के उपायों पर मंथन…बारिश बढ़ा रही टेंशन

थाईलैंड। उत्तर थाईलैंड के चियांग राय में स्थित थम लुआंग गुफा में पिछले 11 दिनों से फंसे 12 लड़कों और उनके फुटबॉल कोच ने एक नया वीडिया जारी किया है। इसमें वे कहते हैं कि वे अब अच्छा महसूस कर रहे हैं।

वे कभी मुस्कराते हैं और कभी हंसते हैं।

करीब 10 दिन में खोजी दल ने उनका पता लगाया था और उसके बाद उन्हें भोजन और चिकित्सा सुविधा पहुंचाई गई थी।

इसके बाद उन्होंने कहा कि वे अब पहले से बेहतर स्वास्थ्य महसूस कर रहे हैं।

शुक्रिया कह रहे बच्चे

थाई नेवी सील फेसबुक पेज पर पोस्ट किया गया वीडियो दिखाता है कि सभी को सर्दी से बचाने के लिए पॉलिथिन वाला कम्बल दिया गया है।

वे सभी गोताखोरों के साथ मशाल की रोशनी में बैठे हुए हैं।

जिसमें सभी एक-दूजे के ऊपर हाथ रखते हुए शुक्रिया अदा कर रहे हैं।

बच्चों का मनोरंजन कर रहे गोताखोर

बचावकर्ता अब इस बात पर विचार कर रहे हैं कि पूरे लोगों को सुरक्षित बाहर कैसे लगाया जाए।

अधिकारियों का कहना है कि किसी भी प्रकार का जोखिम नहीं लिया जाएगा।

सभी गोताखोर बच्चों का मनोरंजन कर रहे हैं।

परिजनों से बात कराने की कोशिश बचावकर्ताओं के दल में एक डॉक्टर और

नर्स को भी भेज दिया है, जिससे बच्चों की सेहत पर नजर रखी जा सके।

आपातकालीन दल फोन मिलाने की कोशिश कर रहे हैं, जिससे बच्चे अपने

परिजनों से बात कर सकें।

बारिश की चेतावनी बढ़ा रही खौफ

सभी को बाहर निकालने में अभी महीनों लग सकते हैं।

क्योंकि, या तो उन्हें पानी से बाहर निकलने का प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए या

फिर गुफा से पानी को बाहर निकाला जाए।

चूंकि, अभी वहां बरसात का मौसम है, ऐसे में चिंता यह है कि गुफा में पानी का

स्तर बढ़ेगा ही, ऐसे में उन सभी को बचाने की राह और मुश्किल हो जाएगी।

गुफा का द्वार बहुत छोटा है। ऐसे में बिना गोताखोरी के गुफा से बाहर

आना मुश्किल है।

मंत्री भी दिखे चिन्तित

देश के आंतरिक मंत्री ने बताया कि उन सभी को बाहर निकालने के लिए उन्हें करीब 1.2 मील से अधिक दूरी तक पानी में गोता लगाना होगा।

बच्चे इसके लिए प्रशिक्षित नहीं हैं।

ऐसे में फिलहाल ऐसा करना संकट को न्यौता देने जैसा होगा।

बारिश की भारी चेतावनी ने दी चिंता बढ़ा दी है।

गुफा में पानी का स्तर बढ़ेगा, जिससे बचाव में कठिनाई आएगी और बच्चों के ऊपर संकट और बढ़ जाएगा।

ऐसे में बारिश से पहले ही सभी को गुफा से सुरक्षित बाहर लाना होगा।

प्रत्येक बच्चे के साथ होंगे दो गोताखोर

हालांकि, उन्होंने कहा कि प्रत्येक बच्चे के साथ दो विशेषज्ञ गोताखोर होंगे।

गुफा से बाहर निकलने से पहले 200 मीटर तक पानी की तेज धाराओं का

सामना करना पड़ेगा। एक थाई गोताखोर का कहना है कि बच्चों को किसी भी

प्रकार की घबराहट नहीं करनी चाहिए, नहीं तो वे जिन्दा बाहर नहीं निकल

पाएंगे। थाई सेनाध्यक्ष चालोंग चाई ने भी आंतरिक मंत्री के इस बयान की पुष्टि

की है। थाई सेनाध्यक्ष ने कहा कि बच्चों को भी गोताखोर की तरह मास्क का

उपयोग करना होगा। लेकिन, उन्हें गोताखोरी के लिए बुनियादी प्रशिक्षण देना

होगा, जिसमें समय लगेगा। हालांकि, बच्चे अब अच्छी स्थिति में हैं और सभी

खिलाड़ी हैं। ऐसे में उम्मीद है कि वे जल्द ही गुफा से जीवित बाहर आएंगे।

Read Also:
  • 2
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...