घोड़ी नहीं पत्नी से छेड़छाड़ के चलते मारा

भतीजे

गुजरात के भावनगर में घोड़ा पालने के शौक के चलते एक दलित युवक की हत्या के मामले में नया मोड़ आ गया है. पुलिस ने दलित की हत्या करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार व्यक्ति ने दलित युवक की हत्या का जुर्म तो कुबूल कर लिया है, लेकिन उसका कहना है कि उसने दलित युवक की हत्या उसके घोड़ा पालने के शौक के चलते नहीं बल्कि अपनी पत्नी से छेड़छाड़ के चलते की.

अब तक मृत दलित युवक प्रदीप राठौड़ के परिवार वाले आरोप लगाते आ रहे थे कि उनके बेटे की हत्या सवर्णों ने इसलिए कर दी, क्योंकि सवर्णों को उनके बेटे का घोड़े की सवारी करना नागवार लग रहा था.

प्रदीप के परिवारवालों ने आरोप लगाया था कि गांव के क्षत्रिय बार-बार उनके परिवार को घोड़ा पालने को लेकर धमकी देते रहते थे और इसी के चलते उनके बेटे की हत्या की गई. लेकिन पुलिस की जांच ने इस मामले में नया ट्विस्ट ला दिया है.

भावनगर पुलिस ने प्रदीप की हत्या करने वाले शख्स मुन्ना कोली को गिरफ्तार कर लिया है. मुन्ना कोली ने पुलिस से पूछताछ में बताया कि प्रदीप बार-बार उसकी पत्नी से छेड़छाड़ करता रहता था. घटना वाले दिन उसने पीड़ित को अपने खेत में देखा तो उसे लगा कि वह फिर से उसकी पत्नी के साथ छेड़छाड़ करने आया है. बस उसने प्रदीप पर हमला कर दिया और उसकी हत्या कर दी.

 इस केस कि जांच कर रहे भावनगर के SSP प्रवीन मल का कहना है कि हत्या के बाद से ही मुन्ना कोली का पूरा परिवार गांव से गायब हो गया था. पूरे परिवार के गांव छोड़कर चले जाने के चलते इस परिवार पर पुलिस को शक हो गया था.

पुलिस तब से मुन्ना कोली और उसके परिवार वालों को ढूंढ रही थी और आखिरकार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. आरोपी मुन्ना कोली की गिरफ्तारी और उसके कुबूलनामे से इस केस में नया मोड़ आया है कि इस हत्याकांड का घोड़ा पालने के शौक से लेना-देना नहीं था.

बता दें कि भावनगर से 60 किलोमीटर दूर एक गांव में बीते गुरुवार की शाम धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी गई थी. घटना के वक्त पीड़ित घोड़े पर सवार होकर कहीं जा रहा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here