चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ओडिशा पहुंचा, 8 लोगों की मौत

0
51

ओडिशा। बंगाल की खाड़ी पर बन रहे दबाव की वजह से आए चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ने भयानक रूप ले लिया. ये तूफान ओडिशा-आंध्र प्रदेश के तट पर पहुंच गया, जिससे ओडिशा के कई हिस्सों में तेज बारिश हुई. तूफान की रफ्तार इतनी ज्यादा है कि कई पेड़ उखड़ गए हैं।

ओडिशा और आंध्र प्रदेश के कई इलाकों में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है, वहीं सैकड़ों लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया गया है। ओडिशा के मुख्य सचिव आदित्य पाधी ने सभी स्कूलों, कॉलेजों और आंगनबाड़ियों को गुरुवार और शुक्रवार को बंद रखे जाने की घोषणा की है. प्रभावित इलाकों में कुल 13 एनडीआरएफ और नौ ओडीआरएएफ की टीमें तैनात की गई हैं।

तितली: 50-60 किमी की रफ्तार से चल रही हैं हवाएं
विशाखापत्तनम चक्रवात चेतावनी केंद्र के ड्यूटी ऑफिसर श्रीनिवास ने बताया, जमीन धंसने के तुरंत बाद 140-150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने लगी। अब धीरे-धीरे इसकी रफ्तार कम हो रही है। अभी 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। आज शाम तक या आधी रात तक ऐसी ही स्थिति बने रहने की संभावना है।

बेहद प्रचंड चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ने गुरुवार को आंध्र प्रदेश में 8 लोगों की जान ले ली और साथ ही श्रीकाकुलम जिले में बड़े स्तर पर तबाही मचाई. राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (SDMA) ने बताया कि तूफान के कारण श्रीकाकुलम जिले में भारी बारिश हुई जिससे सैकड़ों पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए. जिले के कई मंडलों में दो सेंटीमीटर से लेकर 26 सेमी. तक बारिश दर्ज की गई। सड़क संपर्क भी बड़े पैमाने पर कट गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...