छत्तीसगढ़ः जांजगीर चांपा जिले में पटरी से उतरी एक्सप्रेस, कोई हताहत नहीं

0
16

मुंबई हावड़ा शिवाजी टर्मिनल एक्सप्रेस सोमवार को दुर्घटना का शिकार हो गई. हालांकि हादसे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. लेकिन इस मुंबई हावड़ा एक्सप्रेस के चार डिब्बे पटरी से उतर गए.

घटना छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा जिले के सारा गांव की है. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक ट्रेन अपनी सामान्य रफ्तार में थी. लिहाजा उन्हें मामूली झटका लगा और चीख पुकार सुनाई दी.

चार डिब्बे पटरी से उतरे

उन्होंने एक के बाद एक चार डिब्बे पटरी से उतरते देखे. मुंबई से हावड़ा जा रहे S-7 में सवार यात्री महेंद्र वैष्णव के मुताबिक तेज झटके के साथ ट्रेन रुकी. उन्हें आभास हुआ कि ड्राइवर ने अचानक ब्रेक लगाया था. इससे ट्रेन में सवार लोग डर गए और शोर मचाना शुरू कर दिया.

प्रत्यदर्शियों ने बताया कि बड़ा हादसा समझ कर एसी कोच के तीनों डिब्बों से यात्री अपना सामान छोड़ने लगे. उसके पीछे के एक और डिब्बे से भी यात्री तेजी से निकले.

हादसा दोपहर का बताया जा रहा है. घटना की सुचना बिलासपुर रेल मंडल को दी गई. हादसे के आधे घंटे के अंदर राहतकार्य शुरू हो गया.

करीब डेढ़ घंटे की मशक्क्त के बाद पटरी से उतरी बोगियों को फिर से ट्रैक पर चढ़ाया जा सका और इसके बाद हालात सामान्य हुए. राहत और बचाव दल ने ट्रैक का फिर से मुआयना किया. इसके बाद ट्रेन को आगे के सफर के लिए रवाना कर दिया गया.

दुर्घटना का कोई स्पष्ट कारण नहीं

बिलासपुर रेल मंडल के अधिकारियों ने दुर्घटना का कोई स्पष्ट कारण नहीं बताया है. रेल मंडल के डीआरएम के मुताबिक घटना की जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आने के बाद ही दुर्घटना का कारण सामने आएगा और अफसरों की जिम्मेदारी तय की जाएगी.

फिलहाल हादसे में किसी के घायल न होने के चलते रेल अधिकारियों ने राहत की सांस ली. इन दिनों रायपुर और बिलासपुर रेल मंडल 63वां रेल सप्ताह जोर-शोर से मना रहा है. उत्कृष्ठ कार्यों के लिए रेलवे अफसरों को पुरस्कृत किए जाने का सिलसिला जारी है. इस बीच इस दुर्घटना ने रेलवे अफसरों की सजगता और कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...