छात्रा से शारीरिक संबंध बनाने की बात कहने वाला प्रोफेसर सस्पेंड

0
140

प्रोफेसर वकार अहमद ने पीजी फोर्थ सेमेस्टर (अंग्रेजी) में पढ़ने वाली एक छात्रा को उसके प्रोजेक्ट में मदद करने के बहाने फोन किया और उससे अश्लील बातें कीं. और उसे अच्छे नंबर से पास कराने के नाम पर यौन संबंध बनाने के लिए कहा था.

बिहार में गया कॉलेज के चर्चित प्रोफेसर वकार अहमद को मगध विश्वविद्यालय के वीसी कमर हसन ने सस्पेंड कर दिया है. एक छात्रा से उनकी बातचीत का ऑडियो वायरल होने के बाद वीसी ने जांच टीम का गठन किया था. जांच रिपोर्ट में प्रोफेसर वकार अहमद पर लगे आरोप सही पाए गए. इसके बाद वीसी ने यह कार्रवाई की है.

दरअसल, प्रोफेसर वकार अहमद ने पीजी फोर्थ सेमेस्टर (अंग्रेजी) में पढ़ने वाली एक छात्रा को उसके प्रोजेक्ट में मदद करने के बहाने फोन किया और उससे अश्लील बातें कीं. और उसे अच्छे नंबर से पास कराने के नाम पर यौन संबंध बनाने के लिए कहा था.

प्रोफेसर ने छात्रा को फर्स्ट क्लास मार्क्स के लिए घर पर आकर उनकी तमन्ना पूरी करने के लिए कहा. परेशान होकर छात्रा ने रंगीले प्रोफेसर की शिकायत पुलिस से कर दी और उनका एक ऑडियो पुलिस तक पहुंचा दिया. इस ऑडियो क्लिप में प्रोफेसर साहब ने कबूल किया है कि वो पहले भी लड़कियों की ऐसी मदद कर चुके हैं. जैसे ही यह मामला सामने आया छात्रों ने कॉलेज परिसर में जमकर हंगामा किया.

छात्रा और प्रोफेसर की बातचीत का ऑडियो अब पुलिस के पास है, जिसमें प्रोफेसर को उससे अच्छा नंबर देने की एवज में लिए अश्लील बातें करते हुए सुना जा सकता है. छात्रा ने पुलिस को बताया कि अंग्रेजी विभाग के प्रोफेसर वकार अहमद ने प्रोजेक्ट में मदद करने के नाम पर उससे उसका मोबाइल नंबर लिया था.

पहले भी छात्राओं की खास मदद कर चुके प्रफोसर बकार अहमद साहब कॉन्फीडेंस में थे इसलिए छात्रा का नंबर लेने के बाद वो फिर से अपने कैरेक्टर में आ गए और नंबर बढ़ाने की एवज में छात्रा को अकेले में घर पर बुलाने लगे. अश्लील बातें करने लगे, जबकि उसने प्रोफेसर को फोन पर ही बताया कि आपकी बातचीत फोन में रिकॉर्ड कर रही हूं. इसकी शिकायत थाने में करूंगी. छात्रा ने बताया कि प्रोफेसर ने उसकी लाइफ बर्बाद करने की भी धमकी दी.

छात्रा का कहना है कि प्रोफेसेर बकार अहमद ने एक बार नहीं कई दफे फोन किया.24 जुलाई को पहला फोन 1.53 दोपहर में किया था. फिर 24 जुलाई की ही शाम को 6.05 बजे फिर फोन किया. 25 जुलाई को दोपहर 1.39 बजे फिर फोन कर प्रोफेसर ने फर्स्ट क्लास मार्क्स के लिए छात्रा से घर आने की बात कही. तब छात्रा ने पूछा कि घर आकर वह क्या करेगी, तो प्रोफेसर ने कहा, ‘हमारी इच्छा पूरी करोगी, तो पैरवी कर नंबर बढ़वा देंगे’.

छात्रा ने प्रोफेसर के रंगीले मिजाज की जानकारी अपने दोस्तों को दी. जिसके बाद छात्रा ने प्रोफेसर बकार अहमद के खिलाफ रामपुर थाने में मामला दर्ज करवाया. लेकिन छात्रा की माने तो पुलिस ने थाने में मामला दर्ज कराने को लेकर आनाकानी की. थाने में छात्रा को डराने की कोशिश की गई. थाने में पुलिसकर्मी ने उसे कहा कि केस करोगी तो गवाही के लिए बार बार आना पड़ेगा, बोलो तो प्रोफेसर को बुलवाकर मांफी मंगवा देते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...