जमा देने वाले टंप्रेचर पर एसी चला कर उतरने के लिए किया मजबूर

उड़ान में देर के बाद बारिश में उतरने को किया मजबूर

समाचार एजेंसी पीटीआई की एक खबर के अनुसार पश्चिम बंगाल के कोलकाता से बागडोगरा के लिए उड़ान भर रहे एयरएशिया इंडिया के विमान में यात्रियों के साथ चालक दल के दुर्व्‍यवहार का एक मामला सामने आया है।

बताया जा रहा है कि ये फ्लाईट पहले तो काफी देर तक रुकी रही और यात्री जहाज में बैठे हुए टेक ऑफ का इंतजार करते रहे। इसके बाद उनसे जहाज से उतरने के लिए कहा गया।

इस पर यात्रियों ने इंकार किया क्‍योंकि बाहर तेज बारिश हो रही थी

तो उनके साथ स्‍टॉफ ने काफी खराब व्‍यवहार किया और पायलट ने तो अलग ही

स्‍तर का तरीका अपना कर जहाज के अंदर यात्रियों का बैठा रहना दूभर कर दिया।

अनोखा तरीका

जब यात्री बारिश में जहाज से उतरने के लिए इंकार करने लगे और उनकी चालक

दल से बहस होने लगी तो पायलट ने अजीब हरकत की।

उसने जहाज के एसी का ब्‍लोअर पूरी गति से चालू कर दिया।

जिसके चलते विमान में जमा देने वाली ठंडक फैल गई। ठंड कितनी ज्‍यादा थी

इसका अंदाजा इसी बात से लग सकता है कि विमान के अंदर कोहरे की तरह की जबरदस्‍त धूंघ फैल गई।

पहले ही चार घंटे के लगभग हो चुकी देर से परेशान यात्री इस ठंड से बेचैन हो गए।

इस घटना का एक वीडियो भी फेसबुक पर वायरल हो गया है,

जो संभवत जहाज में सवार किसी यात्री ने ही शूट किया है।

इस उड़ान इंडियन आयल कारपोरेशन के कार्यकारी निदेशक दीपांकर राय भी सवार थे

उन्‍होंने भी वीडियों को सही बताते हुए विमान के क्रू के खराब व्‍यवहार की शिकायत की है।

उान्‍होंने इस रवैयो बेहद खराब और गैर पेशेवर बताया।

कंपनी ने दी सफाई 

हांलाकि मामला चर्चित होने के बाद एयर एशिया कंपनी ने अपनी ओर से सफाई दी है और यात्रियों को हुई परेशानी के लिए क्षमा भी मांगी है।

उन्‍होंने कहा कि तकनीकी खराबी के कारण विमान के उड़ने में चार घंटे सेज्‍यादा का विलंब हुआ और

यात्रियों को परेशान होना पड़ा। एयर एशिया एक निजी विमानन कंपनी है और उसकी फ्लाइट कोलकाता से बागडोगरा जा रही थी।

Read Also:

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...