जयपुर बुकमार्क : पुस्तकों पर होगी चर्चा, लगेगा बुद्धिजीवियों का जमावड़ा

0
123
jaipur-bookmark

जयपुर। जेएलएफ से ठीक पहले हर बार की तरह इस साल भी जयपुर बुकमार्क कुछ नए अनुभव और यात्राएं लेकर आएगा। जयपुर बुकमार्क का पांचवां संस्करण पुस्तक की यात्रा और बदलावों के माध्यम से उभरते हुए लेखकों, साहित्यिक एजेंटों और प्रकाशकों से लेकर बुक कवर डिजाइनर, ग्राफिक आर्टिस्ट और ऑडियो एवं डिजिटल प्लेटफॉर्म प्रदाताओं के साथ चर्चा करेगा। जेबीएम की शुरुआत 24 जनवरी को डिग्गी पैलेस के दरबार में होगी और इसका आयोजन डिग्गी पैलेस में 24 से 28 जनवरी के बीच किया जाएगा।


ऑडियो बुक्स और प्रिंटेड बुक्स पर चर्चा

पहले दिन अक्षय रतूड़ी, शताब्दी मिश्रा, तिलक शर्मा, निक्को ओडिसेओस, श्रुति शर्मा के साथ ‘फार द लव ऑफ बुक्सÓ में उन असामान्य पुस्तक विक्रेताओं और क्यूरेटर्स पर बात की जाएगी। जो नए प्रकाशन और एक ट्रेजर हंट के तौर पर मेट्रो पर किताबों छोडऩे, बुक फेयर में जाने और तिब्बती बुद्ध परंपराओं जैसी दिलचस्प प्रक्रियाओं पर किताबें पेश की दिशा में काम करते हैं। इस सत्र का संचालन उर्वशी बुटालिया करेंगी। जहां ‘बुक्स दैट स्पीक: द फ्यूचर ऑफ ऑडियोÓ ऑडियो बुक्स की संभावनाओं पर चर्चा करेगा, ‘रिसर्जेंस ऑफ प्रिंटÓ में प्रिंटेड पेज पर ध्यान केंद्रित होगा और पूछा जाएगा कि क्या पाठक अब भी प्रिंट पढऩा पसंद करते हैं। ‘इंग्लिश लैंग्वेज पब्लिशिंग: द इंडियन मार्केटÓ वैश्विक परिदृश्य में भारतीय प्रकाशन बाजार की स्थिति पर चर्चा करेगा।

धार्मिक लेखों पर चर्चा
अंतिम दिन, पांचवें दिन 28 जनवरी में अनुज बाहरी के साथ बातचीत में मीता कपूर, प्रीति गिल, केली फाल्कनर, पियरे एस्टियर, हैंस पीटर बेकेटिग एक एजेंट ओपेन हाउस में हिस्सा लेंगे। ‘माइंड इन योर बिजनेस: डिवाइन टेक्स्ट्स एंड द मॉर्टल आर्ट ऑफ बुकसेलिंगÓधार्मिक लेखों के प्रकाशन और बिक्री के बारे में जानकारी दी जाएगी। एजेंट्स और कुछ चुनिंदा प्रकाशक द फस्र्ट बुक न्यू राइटर्स मेंटरशिप प्रोग्राम के अंतर्गत युवा पहली बार के लेखकों के समूहों का मार्गदर्शन भी करेगा।

20-25 चयनित प्रतिभागियों को पांचवें दिन फेस्टिवल में आमंत्रित किया जाएगा।और प्रकाशकों, साहित्यिक एजेंटों, लेखकों एवं अनुवादकों के विषेशज्ञ पैनल द्वारा सभी को अलग-अलग फीडबैक दिए जाएंगे और संभवत: उन्हें एक किताब के लिए करार करने का भी मौका मिल जाए। जेबीएम की सह-निदेशक एवं प्रकाशक नीता गुप्ता ने कहा कि हम जयपुर बुकमार्क के पांचवे संस्करण में किताबों के कारोबार और अनुवाद के बारे में चर्चाओं की श्रृंखला के माध्यम से हमें दक्षिण एशियाई लेखकों में अधिक दिलचस्पी पैदा करने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...