जियो अपने ग्राहकों को फ्री में दे रहा है टी-शर्ट

0
275

Related imageमुंबई।     खबर है कि जियो गणेश चतुर्थी और 1 करोड़ ग्राहक पूरा होने की खुशी में अपने ग्राहकों को फ्री में एक टी-शर्ट दे रहा है जिस पर गणेश जी की फोटो और साथ ही जियो का लोगो लगा है। यह मैसेज व्हाट्सएप पर पिछले कई दिनों से वायरल हो रहा है। आइए इस मैसेज की सच्चाई जानते हैं।

व्हाट्सएप पर वायरल हो रहे मैसेज में लिखा है, ‘JIO के 1 करोड़ ग्राहक होने की ख़ुशी में और गणेश चतुर्थी की आगमन पे मुकेश अम्बानी जी ने अपने सभी ग्राहकों को उपहार के रूप में फ्री गणेश प्रिंट बाली T-SHIRT देने का वादा किया है तो अभी निचे नील रंग की लाइन पर क्लिक करके अपने jio नम्बर से रजिस्ट्रेसन करके अपनी फ्री गणेश प्रिंट बाली T-SHIRT प्राप्त करें  https://jiofreet-shirt.blogspot.com/ क्रप्या ध्यान दे *: 🙏 अगर आपके घर में किसी भी सदस्य के पास jio की सिम है तो आप T-SHIRT लेने के लिए उसका इस्तमाल भी कर सकते हो।’Jio free t shirt

मैसेज में दिए गए लिंक पर क्लिक करने पर एक वेबसाइट खुल रही है जिसमें एक फोटो के साथ एक फॉर्म मिल रहा है। फॉर्म में आपसे नाम, जियो मोबाइल नंबर, स्थायी पता और टी-शर्ट साइज की जानकारी मांगी जा रही है। लींक पर दिए गए बैनर के नीचे यह भी लिखा है ‘फॉर्म दर्ज करने की अंतिम तिथि 30 सितंबर 2018 है तो अभी निचे फॉर्म भर कर अपनी फ्री T-SHIRT प्राप्त करें।’

क्या वाकई में जियो दे रहा है टी-शर्ट?

jio

jio
सबसे पहले आपको बता दें कि आपको कोई टी-शर्ट नहीं मिलने वाला है। मैसेज में कहा गया है कि 1 करोड़ ग्राहक पूरे होने के खुशी में टी-शर्ट मिल रहा है, जबकि मार्च 2018 तक जियो के ग्राहकों की संख्या 18.66 करोड़ थी। जियो ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है। यह मैसेज पूरी तरह से लोगों को गुमराह करने के लिए वायरल किया जा रहा है। इस मैसेज के जरिए फोन नंबर से लेकर आपका स्थायी पता भी बाजार में पहुंच रहा है। आपकी इस जानकारी का इस्तेमाल एफलिएट मार्केटिंग के लिए होता है। तभी आपके पास अनजान नंबर से फालतू के फोन आते रहते हैं। इस लिंक के जरिए आपके फोन में मौजूद निजी जानकारी भी चोरी हो सकती है यहां तक की आपका बैंक अकाउंट भी खाली हो सकता है। ऐसे में हम यहीं कहेंगे कि इस मैसेज को डिलीट कर दें और लिंक पर गलती से भी क्लिक ना करें।
————————————————————————-
  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...