टेरर फंडिंग का नागौर कनेक्शन

0
44

नई दिल्ली। नागौर के कुचामन के एक व्यक्ति ने एक बार फिर नागौर का नाम बदनाम किया है। एनआईए ने दिल्ली में आतंकी गतिविधियों में लिप्त तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। टेरर फंडिग के खिलाफ की गई एनआईए इस कार्रवाई में गिरफ्तार सलीम नामक व्यक्ति नागौर के कुचामन का रहने वाला बताया जा रहा है।

गिरफ्तार तीनों लोगों का संबंध आतंकी हाफिज सईद के फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन से है। जानकारी के अनुसार पाकिस्तान का आतंकी हाफिज सईद दिल्ली के रास्ते हवाला कारोबार का पैसा कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियों को संचालित करने लिए भिजवा रहा था। इसमें शामिल 3 लोगों को एनआईए ने दिल्ली से पकड़ा था।

हवाला कारोबार से 10 साल से जुड़ा है सलीम
एनआईए की रिपोर्ट में जिस सलीम को दिल्ली में दरियागंज निवासी बताया गया है वह कुचामन भी आता जाता रहा है। सूत्रों के अनुसार कुचामन के गुलजारपुरा रोड पर मोहम्मद सलीम छींपा उर्फ मामा का निवास है। सूत्रों व स्थानीय लोगों ने बताया कि वह पिछले 10 वर्षों से दिल्ली में रह रहा है। दिल्ली के दरियागंज में उसका ट्यूर एंड ट्रेवल का ऑफिस है।

गहराई से हो जांच
एनआईए की पूछताछ में पता चला कि टेरर फंडिग के काम में लिप्त सलीम मूल रूप से नागौर के कुचामन का रहने वाला है। हालांकि इसकी अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। स्थानीय पुलिस अधिकारियों को इतने लम्बे अर्से तक भी इनके बारे सूचना क्यों नहीं मिली यह रहस्यमय बिंदू है।

 

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...