ट्रंप-किम की मुलाकात के लिए सिंगापुर ही सही जगह

सिंगापुर। अत्यधिक आधुनिक, सुरक्षित माना जाने वाले सिंगापुर को अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के बीच होने जा रही ऐतिहासिक बैठक के लिए चुना गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि कर दी कि अमेरिका के पहले मौजूदा राष्ट्रपति  और उत्तर कोरिया के नेता के बीच 12 जून को सिंगापुर में बैठक होने जा रही है। सिंगापुर ने भी इस बैठक की मेजबानी की पुष्टि कर दी, हालांकि उसने इस बारे में कोई और जानकारी नहीं दी। विशेषज्ञों का कहना है कि दक्षिणपूर्व एशियाई वित्तीय केंद्र माने जाने वाले सिंगापुर को उसकी तटस्थता, कड़ी सुरक्षा व्यवस्था और अंतरराष्ट्रीय शिखर सम्मेलन की मेजबानी के ट्रैक रिकॉर्ड को देखते हुए चुना गया है।
अत्याधिक आधुनिक इस शहर में मजबूत सुरक्षा व्यवस्था है
इसे एशिया के सबसे सुरक्षित शहरों में से एक माना जाता है। सिंगापुर ऐसा देश है जिसके वॉशिंगटन और प्योंगयांग दोनों के ही साथ दोस्ताना कूटनीतिक संबंध हैं। भले ही बीते साल उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों को लागू करने से रिश्ते खराब हुए हों लेकिन सिंगापुर और उत्तर कोरिया के बीच सहयोग का लंबा इतिहास रहा है। सिंगापुर का अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों की मेजबानी का ट्रैक रेकॉर्ड भी रहा है। साल 2015 में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और तत्कालीन ताइवानी राष्ट्रपति मा यिंग जेओ के बीच बैठक की मेजबानी सिंगापुर ने ही की थी।
Read More:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...