ट्रैफिक जाम वाले इलाकों में लगी नई सिग्नल लाइटें बंद

0
67

जयपुर। शहर में कुछ महीने पूर्व लगाई गई ट्रैफिक सिग्नल लाइटें देखरेख के अभाव में बंद होने से आए दिन रोड जाम के हालात पैदा हो रहे हैं। इसके अलावा कई नई ट्रैफिक लाइटों का कनेक्शन नहीं जोड़े जाने से ये शो-पीस बनकर रह गई हैं। शहर के न्यू सांगानेर रोड, झालाना क्षेत्र की बाईजी की कोठी, अजमेर रोड सहित शहर के दर्जनों चौराहों में दीपावली से पूर्व नई ट्रैफिक सिग्नल लाइटें लगाई गई थी लेकिन इनमें से आधा दर्जन से भी ज्यादा लाइटें तकनीकी खराबी के कारण बंद हो गई हैं।
नतीजतन इनके माध्यम से ट्रैफिक नियंत्रण नहीं होने से रोजाना दिन में कई मर्तबा सड़कों पर जाम की स्थिति पैदा हो जाती है। हाल में नए वर्ष के स्वागत को लेकर जयपुर में रिकॉर्ड संख्या में आए पर्यटकों के कारण सड़कों पर वाहनों की जबर्दस्त रेलमेपल रही लेकिन ट्रैफिक लाइटें खराब होने से यातायात पुलिस के लिए ट्रैफिक व्यवस्था बनाए रखना चुनौती का कारण बन गया। न्यू सांगानेर रोड, अजमेर रोड, दिल्ली एवं आगरा रोड से शहर में भारी वाहन प्रवेश करते हैं और यहां दुर्घटना की आशंका ज्यादा रहती है ऐसे में इन स्थानों में ट्रैफिक सिग्नल लाइटें स्थापित की गई थी। अधिकतर इलाकों में लगाई गई ट्रैफिक सिग्नल लाइटों की संकेतक का इनके आसपास ट्रैफिक पुलिसकर्मी तैनात नहीं होने से भी लोग अनुपालना नहीं कर रहे हैं। इससे यहां हादसे हो रहे हैं। उधर, शहर में सड़क हादसों के लिहाज से संवेदनशील इलाकों में फस्र्ट एड बॉक्स के इंतजाम से काफी राहत मिली थी लेकिन कुछ समय बाद ट्रैफिक पुलिस गुमटी एवं केबिन में इसे रखने के प्रति जिम्मेदार उदासीनता बरतने लगे हैं। स्थिति यह है कि शहर के थानों एवं परिवहन विभाग के कार्यालय के आसपास की ट्रैफिक सिग्नल लाइटें भी नियमित रूप से नहीं जल रही हैं इससे जाम लगने की स्थिति में यातायात के नियंत्रण की जिम्मेदारी ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को निभानी पड़ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here