डायबिटीज के मरीजों के लिए भी लाभकारी है लौकी

0
41

लौकी का प्रयोग सब्जी के रूप में किया जाता है लेकिन इसके छिलके व रस से भी कई फायदे हैं।लौकी में कई तरह के प्रोटीन, विटामिन और लवण पाए जाते हैं। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम पोटेशियम और जिंक पाया जाता है। ये पोषक तत्व शरीर की कई आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं और शरीर को बीमारियों से सुरक्षित भी रखते हैं।कार्बोहाइड्रेट की उपलब्धता से यह आसानी से पच जाती है इसीलिए डायबिटीज के मरीजों के लिए भी लाभकारी है।

पेट-रोग : लौकी को धीमी आंच में भूनकर भुर्ता बना लें, इसका रस निचोड़कर मिश्री मिलाकर पीने से लिवर व पेट के रोगों में लाभ होगा।

त्वचा : लौकी के ताजा छिलके को पीसकर चेहरे पर लेप करने से त्वचा में निखार आता है।

तलवों की जलन : लौकी को काटकर पैर के तलवों पर मलने से पैर की गर्मी व जलन दूर होती है।

दस्त : उबली हुई लौकी का रायता खाने से दस्त में आराम मिलता है।

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए – लौकी का इस्तेमाल करना दिल के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल से हानिकारक कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है। कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होने से दिल से जुड़ी कई बीमारियों के होने का खतरा बढ़ जाता है।

दवा की तरह प्रयोग
दांतदर्द : 75 ग्राम लौकी व 20 ग्राम लहसुन पीसकर एक लीटर पानी में उबालें। पानी आधा रह जाए तो छानकर कुल्ला करें।

बवासीर : छिलके को छाया में सुखाकर पीस लें। रोजाना सुबह-शाम एक चम्मच ठंडे पानी के साथ फांकी लें।

बेली फैट काम करने में मदद करेंगे डॉयफ्रुइट

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...