तालिबान ने ईद पर सीजफायर के ऐलान के बाद भी 20 सुरक्षाकर्मियों को मौत दी

काबुल। तालिबान ने तीन दिवसीय ईद-उल-फितर के दौरान शनिवार को अफगानिस्तान में संघर्ष विराम का ऐलान किया और कहा कि इस दौरान अफगान सुरक्षाबलों पर कोई हमला नहीं किया जाएगा।
हालांकि संघर्षविराम की घोषणा के कुछ घंटों बाद ही तालिबानी
विद्रोहियों ने सरकार समर्थित 20 सुरक्षाबलों की हत्या कर दी। रिपोट्र्स के मुताबिक, तालिबान
विद्रोहियों ने अल-सुबह कला-ए-जल जिले में सुरक्षा चौकियों पर हमले किए,
जिसके परिणामस्वरूप 20 सरकार समर्थक सुरक्षाबलों की मौत हो गई और 6 अन्य घायल हो गए।

इससे पहले तालिबान की ओर से जारी बयान के हवाले से कहा गया था

कि सभी मुजाहिद्दीन को ईद के पहले, दूसरे और तीसरे दिन के दौरान घरेलू विपक्षी बलों पर हमले नहीं करने के निर्देश दिए हैं।

राष्ट्रपति अशरफ गनी के संघर्ष विराम के ऐलान के बाद तालिबान ने यह बयान दिया था।

गनी ने गुरुवार को तालिबान के साथ युद्ध विराम की घोषणा करते हुए कहा था कि

13 जून से ईद उल फितर के पांचवें दिन तक संघर्ष विराम की बात कही थी। हालांकि, तालिबान का कहना था कि

वह युद्धविराम के दौरान किसी भी तरह की आक्रामकता का जवाब देगा।

ईद-उल-फितर 14 जून से शुरू होगा। तालिबान द्वारा सुरक्षाकर्मियों पर किए गए

हमले के बाद संघर्ष विराम की क्या स्थिति रहती है, यह आने वाले कुछ घंटों में पता चल जाएगा।

हालांकि सरकार की तरफ से बताया गया है कि इस घटना में कम

से कम एक दर्जन तालिबानी आतंकी भी मारे गए हैं।

एक अधिकारी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि हमले के बाद तालिबानी आतंकी घटनास्थल से भाग निकले।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...