तिवाड़ी के पास अब क्या बचा…सबकुछ ले गए मोदी

0
95
जयपुर। भाजपा का साथ छोड़ने के बाद नई पार्टी बनाकर सियासी मैदान में ताल ठोकने वाले दिग्गज नेता घनश्याम तिवाड़ी की राजनीतिक रूप से दूसरी पारी अभी ढंग से शुरू भी नहीं हो पाई है. उससे पहले ही पीएम नरेंद्र मोदी उनका प्रमुख मुद्दा छीन ले गए हैं. सवर्णों के आरक्षण मसले को तिवाड़ी ने विधानसभा चुनाव में उठाया था. लेकिन, इस पर बड़ा दांव मोदी सरकार ने खेलते हुए अपनी छाप छोड़ दी है।
विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा का साथ छोड़ने के बाद भारत वाहिनी पार्टी बनाकर नई राजनीतिक राह पर तिवाड़ी ने कदम रखा. इस चुनाव के दौरान अपनी पार्टी के प्रमुख एजेंडे को सबके सामने रखते हुए तिवाड़ी ने सवर्णों को आरक्षण देने का मुद्दा उठाया था. पूरे चुनाव अभियान के दौरान तिवाड़ी ने इस मुद्दे को हर जगह उठाया. साथ ही चुनाव के दौरान सवर्ण आरक्षण के मसले को हवा देने की कोशिश भी की. उन्होंने चुनाव के दौरान यह भी कहा कि वे सत्ता में आते हैं तो सवर्णों को आरक्षण देंगे. हालांकि, चुनाव के दौरान तिवाड़ी सहित उनकी पार्टी के सभी प्रत्याशी हार गए. जिसके बाद उनके इस एजेंडे की आंच भी धीमी हो गई. लेकिन, अब पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से लोकसभा चुनाव से पहले सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण की घोषणा के साथ ही तिवाड़ी का यह मुद्दा अब खत्म हो चुका है. राजनीति के जानकारों का कहना है कि मोदी के इस घोषणा के बाद तिवाड़ी के पास राजनीतिक रूप से कोई ठोस  मुद्दा नहीं बचा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...