तूफान ने भारी तबाही मचाई: पांच राज्यों में 80 लोगों की मौत

केंद्रीय गृहमंत्रालय ने आज इस बात की जानकारी दी। मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर प्रदेश में 51 लोगों की मौत हुई है , जबकि आंध्र प्रदेश में 12, पश्चिम बंगाल में 14, दिल्ली में दो लोगों की जबकि उत्तराखंड में एक व्यक्ति की मौत हुई है। उत्तर प्रदेश में कुल 83 लोग घायल हुए। दिल्ली में 11 और उत्तराखंड में दो लोग घायल हुए। प्रवक्ता ने बताया कि आंधी – बारिश और बिजली गिरने के कारण उत्तर प्रदेश के 24 जिले, पश्चिम बंगाल के छह, आंध्र प्रदेश के तीन, दिल्ली के दो और उत्तराखंड का एक जिला प्रभावित हुआ।
दिल्ली, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों , पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में कल आंधी के साथ बारिश ने भारी तबाही मचाई थी। दिल्ली समेत उत्तर भारत में आंधी के कारण कल शाम कई जगह पेड़ गिर गये, सड़क, रेल एवं वायु यातायात सेवाएं प्रभावित हुईं।

 मौसम विभाग के अनुसार हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड, असम, मेघालय, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में अलग अलग स्थानों पर कल आंधी के साथ बारिश हुई।

कुछ दिन पहले भी तूफान ने मचाई थी तबाही

उत्तर प्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना, उत्तराखंड और पंजाब में करीब 12 दिन पहले भी तूफान आया था जिसमें 134 लोगों की मौत हुई थी और 400 से ज्यादा लोग जख्मी हुए थे। सबसे ज्यादा 80 मौत उत्तर प्रदेश में हुई थी, उसमें भी आगरा जिला सबसे ज्यादा प्रभावित था। इसके बाद नौ मई को उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में फिर से अंधड़ आया था जिसमें 18 लोगों की मौत हो गई और 27 अन्य जख्मी हो गए थे।

दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्राकृतिक आपदा में मरे लोगों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। इन मौतों पर दुख जाहिर करते हुए राहुल  ने सोमवार को अपने पार्टी कार्यकताओं से शोकाकुल परिवारों की हर संभव सहायता करने का आग्रह किया।

राहुल ने ट्वीट किया, ‘देशभर में कल (रविवार) आए आंधी-तूफान और आकाशीय बिजली के कारण मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं है। कई लोग घायल भी हुए हैं।’

उन्होंने कहा, ‘मैं कांग्रेस पार्टी के कार्यकताओं से मारे गए और घायल हुए लोगों के परिवारों की हर संभव सहायता करने का आग्रह करता हूं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here