थाईलैंड में बस्ता उठा बुजुर्ग जा रहे स्कूल

चियांग राक न्युई । बुढापे में अकेलापन विश्व व्यापी समस्या बनता जा रहा हैं। इसके उपाय कई तरीके से खोजे जा रहे हैं। लगातार बढ रही बुजुर्ग आबादी को घर पर अकेले रहते तनाव में आने से बचाने की एक तरकीब निकाली  हैं। थाईलैंड में बुजुर्ग स्कूल जा रहे हैं। थाईलैंड की सरकार ने अयुथाया के चियांग राक न्युई में ऐसा एक स्कूल शुरुआती तौर पर खोला है। लेकिन इसमें बुजुर्गों की बढ़ती संख्या और उनके चेहरे पर लौटती मुस्कान ने इस प्रयास को बढा बना दिया है। स्कूल में बुजुर्ग बढ रहे हैं, यह बिना नागे स्कूल आते हैं और सबसे अहम इन्हें अब कैसा भी तनाव नहीं होता। 63 वर्षीय पूनश्री सेंग्नुआल कहती हैं कि उन्हें स्कूल का इंतजार रहता है। वहां उनके ढेर सारे दोस्त हैं, जिनके साथ वक्त कैसे बीतता है पता ही नहीं चलता।
दोस्त दूर कर रहे अकेलापन 
स्कूल में 12हफ्तें का कोर्स है, जिसमें बुजुर्ग जाते हैं, दोस्त बनाते हैं। बच्चे घर से दूर नौकरी कर रहे हैं और बुुजुर्ग घर पर अकेले हैं। ऐसें में इस नए स्कूल से इन्हें अपने ही जैसे कई दोस्त मिल गए हैं। जो इनके बुढापे की लाठी बन गए। एक दूसरे का अकेलापन दूर कर रहे बुजुर्ग अपने इस नए जीवन में बेहद खुश हैं। तनाव बिलकुल नहीं, बचपन की तरह सिर्फ मस्ती से बीतता है इनका दिन। थाईलैंड में 65 से अधिक 75 लाख बुजुर्ग आबादी है
Read More:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here