दिल्ली आईटी सेल के हाथों में प्रदेश सोशल मीडिया कैंपेन की कमान

0
64

जयपुर। प्रदेश में ढाई माह बाद होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर जहां कांग्रेस नेता रैलियों और जनसभाओं के जरिए विरोध में माहौल बनाने में जुटे हैं, तो वहीं सोशल मीडिया के जरिए सरकार की नाकामियों को आमजन, खासकर युवाओं तक पहुंचाने और भाजपा के आईटी सेल से मुकाबले के लिए राहुल गांधी वॉर रूम से चलने वाली आईटी सेल की भी मदद ली जा रही है।

वैसे तो प्रदेश कांग्रेस के पास स्वयं का आईटी सेल है, लेकिन भाजपा के मजबूत आईटी सेल से मुकाबले के लिए केंद्रीय आईटी सेल को राजस्थान विधानसभा चुनाव की कमान दी जा रही है। कांग्रेस आईटी सेल के तहत काम करने वाले कुछ लोगों को राजस्थान की जिम्मेदारी दी गई है।

आईटी सेल से जुड़े सूत्रों की मानें तो इस माह के आखिर में केंद्रीय आईटी सेल की एक टीम जयपुर में डेरा डालेगी। इस टीम में केंद्र और राज्य के लोग मिलकर काम करेंगे। करीब दो दर्जन से ज्यादा लोग इस टीम का हिस्सा होंगे। आईटी सेल के लिए जयपुर में एक वॉर रूम भी बनाया जा रहा है, वॉर रूम कहां बनेगा, इसके लिए एक सुरक्षित जगह की तलाश की जा रही है।

कल आएगी टीम
सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी वॉर रूम से चलने वाले आईटी सेल की एक टीम 4 अक्टूबर को राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों का दौरा करेगी। टीम प्रदेश के कई बड़े नेताओं से भी सोशल मीडिया कैंपेन को लेकर चर्चा करेगी। आईटी सेल के नेशनल कॉर्डिनेटर को राजस्थान में टीम तैयार करने का जिम्मा दिया गया है। इससे पहले भी केंद्रीय आई सेल की टीम जून माह माह में जयपुर का दौरा कर प्रदेश आईटी सेल के कामकाज का जायजा ले चुकी है।

ये है वजह
पार्टी के जानकार बताते हैं कि प्रदेश से चल रही आईटी सेल के कामकाज से पार्टी के कई बड़े नेता नाखुश हैं, जिसकी रिपोर्ट राहुल गांधी वॉररूम को भेजी गई थी। उसी के बाद से विधानसभा चुनाव में सोशल मीडिया कैंपेन चलाने की जिम्मेदारी केंद्रीय आईटी सेल को देने की चर्चाएं चल रही थीं।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...