दिवंगत मदर टेरेसा को दिया भारत रत्न सम्मान वापस लेना चाहिए

0
186

नई दिल्ली: अगर रांची के मिशनरीज ऑफ चैरिटी के केंद्रों से बच्चे बेचने की बात सही साबित होती है तो दिवंगत मदर टेरेसा को दिया भारत रत्न सम्मान वापस लेना चाहिए ये आरएसएस और बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं का कहना है |

आरएसएस के दिल्ली प्रचार प्रमुख राजीव तुली ने भी मिशनरीज ऑफ चैरिटी के खिलाफ लगे आरोप सही साबित होने पर

मदर टेरेसा को सामाजिक‍ कार्य के लिए मिला भारत रत्न वापस ले लेने को कहा|

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने भी तुली की इस मांग का समर्थन किया|

तुली के अनुसार भारत के नागरिक यह नहीं चाहते कि भारत रत्न पर कोई दाग लगे.

मदर टेरेसा को 1980 में भारत रत्न दिया गया था.

तब भी ऐसे आरोप लगते थे और आज भी आरोप लग रहे हैं |

तुली का कहना है कि मदर टेरेसा ने कभी भी लोक कल्याण के लिए काम नहीं किया|

मदर टेरेसा को पिछले साल ही वेटिकन से संत की उपाधि मिली है |

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मदर टेरेसा द्वारा स्थापित इस संस्था का समर्थन करते हुए कहा था कि उसे

‘दुर्भावनावश और बदनाम करने के लिए’ लक्षित किया जा रहा है |

ये मामला तब चर्चा में आया जब इस साल मई में मिशनरीज ऑफ चैरिटी से जुड़े होम से एक नवजात शिशु को एक

दंपति ने 1.20 लाख रुपए में लिया था.

इस दंपति से नवजात के जन्म और चिकित्सा देखभाल के नाम पर ये रकम ली गई थी|

दंपति का कहना है कि उनसे ये कहकर बच्चा वापस ले लिए की प्रक्रिया पूरी होने पर दे देंगे|

बच्चा न मिलने पर दंपति ने इसकी शिकायत चाइल्ड वेलफेयर कमेटी से कर दी|

Read Also:

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...