देश के बड़े खिलाड़ियों को घरेलू क्रिकेट खेलने चाहिए

0
44

मेलबर्न: आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ का मानना है कि घरेलू क्रिकेट बड़े खिलाड़ियों के लिए अपने आप को मानसिक तौर पर मजबूत करने के लिए सही माहौल मुहैया कराता है। वॉ का कहना है कि देश के बड़े खिलाड़ियों का घरेलू क्रिकेट खेलने से दूर रहना उनकी समझ में नहीं आता। वॉ ने कहा कि वह अपने करियर में अपने आप को परखने के लिए हमेशा क्लब क्रिकेट खेलने के लिए तैयार रहते थे। बॉल टेम्परिंग विवाद के बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) द्वारा गठित की गई समिति ने सुधार के लिए जो संस्कृति समीक्षा रिपोर्ट बनाई है, उनमें शामिल 42 सिफारिशों में से एक सिफारिश यह भी है कि शीर्ष स्तर के खिलाड़ियों को ग्रेड लेवल क्रिकेट में वापस लौटना चाहिए। वॉ ने भी इसी बात पर जोर दिया है।

सेना गोलियां चला सकती है अगर शरणार्थी पथराव करेंगे : ट्रंप

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने वॉ के हवाले से लिखा है, “कई मायनों में मैंने अपने आप को ग्रेड क्रिकेट खेल कर मानसिक तौर पर मजबूत किया था। आपसे उम्मीद की जाती है कि जब आप ग्रेड क्रिकेट खेलेंगे तब आप शतक बनाएंगे। आपसे उम्मीद की जाती है कि वहां आप सफल रहेंगे। वहां भीड़ नहीं होती, आपको कोई देख नहीं रहा होता, वहां टीवी नहीं होती, लेकिन आपके ऊपर फिर भी अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव होता है।” आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम को 1999 ने विश्व कप दिलाने वाले कप्तान ने कहा, “मेरे लिए यह अपने आप को मानसिक तौर पर मजबूत करने का अभ्यास रहा क्योंकि मुझे लगता था कि अगर मैं वहां कर सकता हूं तो मेरे लिए दबाव में अच्छा प्रदर्शन करना आसान होगा।”

फुटबॉल खिलाड़ी के परिवार ने 35 करोड़ रुपये मुआवजा दिलाने मांग की

वॉ ने हालांकि इस बात को माना कि मौजूदा समय में ग्रेड क्रिकेट के लिए समय निकालना मुद्दा हो सकता है लेकिन उन्होंने कहा, “इसके लिए कार्यक्रम तय करना आसान है। जब मैं खेल रहा था, मैं भी उतने दिन बाहर रहता था जितने दिन आज के शीर्ष स्तर के खिलाड़ी रहते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...