धोनी ने वनडे करियर के 10 हजार रन पूरे किए

इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले गए तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मैच में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने वनडे करियर के 10 हजार रन पूरे कर लिए. 10 हजार रन के क्लब में शामिल होने वाले धोनी 12वें क्रिकेटर हैं. खास बात ये है कि धोनी ने 50 से ज्यादा के औसत के साथ 10 हजार रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं. धोनी ने ये कीर्तिमान अपने 320वें मैच में बनाया.

औसत के लिहाज से धोनी ने सचिन तेंदुलकर और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग को भी पछाड़ दिया है.

सचिन का औसत 45 है जबकि पोंटिंग ने 42 के औसत से रन बनाए हैं.

धोनी के बाद औसत में सबसे ऊपर दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज जाक कैलिस हैं जिन्होंने 44 के औसत से 10

हजार से ज्यादा रन बनाए हैं.

10 हजार रन बनाने वाले वह भारत के चौथे क्रिकेटर हैं.

श्रीलंका के कुमार संगाकारा के बाद इस मुकाम तक पहुंचने वाले वह दूसरे विकेटकीपर हैं.

इस मुकाम पर सबसे तेजी से पहुंचने वाले वह चौथे भारतीय और दुनिया के 12वें क्रिकेटर हैं.

भारत की तरफ से उनसे पहले सचिन तेंदुलकर (18426 रन), सौरव गांगुली (11363) और राहुल द्रविड़

(10889) ने दस हजार से अधिक रन बनाए हैं.

37 साल के धोनी ने 10 हजार रन पूरे करने के लिए 273 पारियां खेली.

रिकी पोंटिंग ने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए 266, जैक्स कैलिस ने 272, सचिन तेंदुलकर ने 259 और सौरव

गांगुली ने 263 पारियां खेली थी.

धोनी नंबर 6 पर बल्लेबाजी करने आते हैं.

धोनी के अलावा इस मुकाम पर पहुंचने वाले बाकी सभी बल्लेबाज या तो ओपनर हैं या तो नंबर 3 या नंबर 4 पर

बल्लेबाजी करने आते थे.

ऐसे में किसी भी बल्लेबाज के लिए नंबर 6 और 7 पर आकर बल्लेबाजी करना और 10 हजार रन बनाना अपने

आप में एक बड़ा रिकॉर्ड है.

इसके अलावा धोनी ने नंबर सात पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक भी जड़े हैं.

धोनी ने 7 नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 10 शतक जड़े हैं.

वनडे में बतौर कप्तान उन्होंने सबसे ज्यादा छक्के जड़े हैं.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा स्टंपिंग धोनी ने ही की है.

इसके अलावा इंग्लैंड की बल्लेबाजी के दौरान धोनी ने वनडे में 300 कैच लेने वाले पहले भारतीय क्रिकेटर बने.

उन्होंने जॉस बटलर को उमेश यादव के हाथों कैच कराकर ये कीर्तिमान रचा.

धोनी से ज्यादा एडम गिलक्रिस्ट(417),  मार्क बाउचर(402) और कुमार संगाकारा(383) ने कैच लिए हैं.

हाल ही में धोनी ने अपना 500वां अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेला था.

इंग्लैंड के खिलाफ खेला गया दूसरा टी-20 मैच उनके करियर का 500वां अंतरराष्ट्रीय मैच था.

धोनी के अलावा तेंदुलकर ने 664 और द्रविड़ ने 509 मैच खेले हैं.

Read Also:
  • 2
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...