नवाज शरीफ का बड़ा कबूलनामा- मुंबई हमले में था पाकिस्तान का हाथ

पाकिस्तान के बर्खास्त प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का मुंबई आतंकी हमले को लेकर बड़ा कबूलनामा सामने आया है. उन्होंने माना कि पाकिस्तान सरकार की मदद से आतंकी सीमा पार करके भारत में पहुंचे थे.

एक सवाल के जवाब में नवाज शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान सरकार ने आतंकियों को सीमा पर करके जाने और मुंबई में हमला करने की इजाजत क्यों दी?

पाक अखबार ‘डॉन’ को दिए इंटरव्यू में पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पाकिस्तान में चल रहे 26/11 केस का ट्रायल पूरा न होने पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि आतंकियों का समर्थन करने के कारण पाकिस्तान दुनिया में अलग-थलग पड़ गया है.

मालूम हो कि अभी तक पाकिस्तान कहता था कि मुंबई आतंकी हमले को नॉन स्टेट एक्टर्स ने अंजाम दिया है, लेकिन उसकी सरकार की कोई भूमिका नहीं है. नवाज शरीफ के कबूलनामे से पाकिस्तान एक बार फिर दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है. पाकिस्तान सरकार का आतंकियों के साथ गठजोड़ सबके  सामने आ गया है.

पाकिस्तान में भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा, ”अगर देश में दो या तीन समांतर सरकारें हों, तो देश को नहीं चलाया जा सकता है. इसको रोकना होगा. देश में सिर्फ एक ही सरकार हो, जो संवैधानिक प्रक्रिया से चुनी गई हो.”

उन्होंने आगे कहा, ”पाकिस्तान में आतंकी संगठन सक्रिय हैं. क्या हमें उन्हें सीमा पार करने और मुंबई में 150 लोगों की हत्या करने की इजाजत दे देनी चाहिए? मुझे बताइए?”

पाकिस्तान की रावलपिंडी एंटी-टेरोरिस्ट कोर्ट में मुंबई हमले मामले की सुनवाई बंद करने का जिक्र करते हुए नवाज शरीफ ने कहा, ”हमने मुंबई हमले मामले की सुनवाई क्यों नहीं पूरी की?” मालूम हो कि पाकिस्तान इस बात से हमेशा इनकार करता रहा है कि साल 2008 के मुंबई हमले में उसकी कोई भूमिका है.

पाकिस्तानी अखबार डॉन को दिए इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने यह भी साफ तौर पर माना कि पाकिस्तान में आतंकी सक्रिय हैं और पनाह पाते हैं. इससे पहले भारत काफी समय से यह बात कहता आ रहा है कि पाकिस्तान आतंकी की पनाहगाह है, लेकिन वो इस बात से इनकार करता रहा है. अब पाकिस्तान की पोल उसके पूर्व प्रधानमंत्री ने ही खोल दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...