नीरव मोदी हांगकांग से भागकर न्यूयॉर्क पहुंचा, दस्तावेजों से हुआ खुलासा

0
24

नई दिल्ली : पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) को 13 हजार 500 करोड़ रुपए का चपत लगाने वाला हीरा कारोबारी नीरव मोदी के बारे में खबर है कि वह हांगकांग से भागने में कामयाब हो गया है। नीरव को न्यूयार्क में देखा गया है। बता दें कि भगोड़े नीरव मोदी को भारत वापस लाने के लिए देश की प्रवर्तन एजेंसियों ने अपने प्रयास तेज कर दिए हैं। नीरव मोदी  जनवरी 2018 को मुंबई से फरार होकर यूएई पहुंचा था। इसके बाद वह हांगकांग से लंदन गया और उसके लंदन में एक महीने तक रुकने की बात सामने आई है। टाइम्स नाउ को उसकी गतविधियों से जुड़ी सरकार की एक रिपोर्ट हाथ लगी है।

सरकारी दस्तावेज के मुताबिक नीरव मुंबई से फरार होकर पहले संयुक्त अरब अमीरात पहुंचा। भारतीय एजेंसियों ने उसका यहां पीछा किया। एजेंसियों को अपने पीछे पड़ता देख नीरव को लगा कि यूएई उसके लिए महफूज नहीं है और यहां से भागकर वह दो फरवरी को हांगकांग पहुंच गया। यहां पर उसने लंबे समय तक ठहरने की व्यवस्था करने की कोशिश की लेकिन हांगकांग के कड़े कानूनी प्रावधानों के चलते वह अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाया और उसे 14 फरवरी को यहां से भी भागना पड़ा। नीरव यहां से भागकर लंदन पहुंचा। दस्तावेज के मुताबिक नीरव 15 फरवरी को लंदन पहुंचा और यहां करीब एक महीने तक रुका। इस दौरान वह सेंट्रल लंदन के एक आलीशान होटल में ठहरा। यहां भी उसने अपने लिए सुरक्षित ठिकाने की तलाश की लेकिन सफल नहीं हो सका।

 

दस्तावेज के अनुसार मार्च के तीसरे सप्ताह में नीरव मोदी लंदन से भागकर न्यूयॉर्क पहुंचा। कारोबार जगत से जुड़े लोगों ने भी उसे न्यूयॉर्क में देखे जाने की बात कही है। सवाल है कि सरकार ने जब नीरव मोदी का पासपोर्ट रद्द कर दिया है तो वह बिना रोकटोक के दुनिया भर में यात्रा कैसे कर पा रहा है। क्या नीरव मोदी के पास कई देशों के पासपोर्ट हैं। सरकार को इस दिशा में भी अपनी जांच शुरू करनी चाहिए।

विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने अप्रैल महीने की शुरुआत में संसद को बताया था कि मंत्रालय ने नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए हांगकांग की सरकार से मांग की थी। पीएनबी फ्रॉड मामले में भारत सरकार ने हांगकांग से नीरव मोदी की प्रोविजनल गिरफ्तारी का अनुरोध किया था। वी के सिंह ने बताया था कि भारत सरकार की तरफ से 23 मार्च को हांगकांग से गिरफ्तारी के लिए अनुरोध किया गया था। बता दें कि सीबीआई के अनुरोध पर मुंबई की CBI की स्पेशल कोर्ट ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। जबकि विदेश मंत्रालय नीरव और चोकसी के पासपोर्ट पहले ही रद्द कर चुका है। पीएनबी फ्रॉड मामले में सीबीआई ने मोदी और चोकसी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...