नेताओं की अनदेखी पर जनमंच ने जाहिर की नाराजगी

0
66

चंबा। जनमंच चंबा ने प्रशासन पर अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेले में हिमाचल प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष हंसराज समेत पदमश्री विजय शर्मा और डलहौजी की विधायक आशा कुमारी की अनदेखी का आरोप लगाया है।

प्रेस कॉन्फ्रेस में जनमंच के अध्यक्ष स्वामी भुवनेश्वर शर्मा ने कहा कि मिंजर मेले में हुए वरिष्ठ नेताओं और लोगों की अनदेखी पर प्रदेश सरकार से दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे। विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज, पदमश्री विजय शर्मा और विधायक आशा कुमारी को मिंजर मेले में ना बुलाकर उनका अपमान किया गया है। चंबा जनमंच इसकी कड़ी आलोचना करता है। मिंजर मेंले के आयोजन पर पूरी तरह से सियासी रंग चढ चुका है।

जनमंच चंबा ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी और कांग्रेस सत्ता में रहते हुए अपनी-अपनी पार्टियों के लोगों को आयोजन समिति में शामिल करती है। जनमंच ने मिंजर मेले में लगाई गई प्रदर्शनियों में चंबा से जुड़ी पांरपरिक कलाकृतियों को शामिल ना करने पर कड़ी आपत्ति जताई है।

प्रशासन को मिंजर मेले में पदमश्री विजय शर्मा की याद तक नहीं आई। मेले में डलहौजी से विधायक आशा
कुमारी चंबा के विधायक हंसराज की अनदेखी हुई है। हंसराज हिमाचल प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष हैं। पूरे आयोजन के दौरान आयोजन समिति ने उन्हे बुलाना ठीक नहीं समझा। सरकार को इसे गंभीरता के साथ लेना चाहिए और इसके लिए दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

जनंमंच चंबा ने कहा कि मिंजर आयोजन में हुए खर्च को सार्वजनिक किया जाए। ऐसा ना होने पर जनमंच माननीय हाईकोर्ट जाकर ब्यौरा मांगेगा की आयोजन के लिए कहां कहां से पैसा मिला और कितना
किस पर खर्च किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...