पथराव से नहीं मिलेगी आजादी, सेना हमेशा आजादी की मांग करने वालों से लड़ती रहेगी: जनरल बिपिन रावत

कश्मीर में आतंकवादी हमलो और कश्मीर के युवकों द्वारा हिंसा का रास्ता आपनाने को लेकर आर्मी चीफ बिपिन रावत ने सख्ती दिखाई है। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कश्मीर में पत्थरबाजों को चेतावनी देते हुए कहा कि जो लोग आजादी के नाम पर मासूमों और सेना पर पत्थरबाजी करते हैं।

मैं उन्हें साफ शब्दों में बताना चाहता हूं कि आपको कभी भी आजादी नहीं मिलेगा। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा कि आप सेना से नहीं लड़ सकते। आर्मी चीफ ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि पथराव करने और सेना से उलझने से पत्थरबाजों को कुछ भी हासिल नहीं होने वाला है।

यहीं नहीं आर्मी चीफ बिपिन रावत ने ये भी कहा की जो लोग कश्मीर के युवकों को यह कह रहे है कि पत्थरबाजी करने से आपको आजादी मिल जाएगी, मैं आपको बताना चाहता हूं वो लोग केवल आपको गुमराह कर रहे है।

आर्मी चीफ ने कहा

आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा कि मैं कशमीरी युवकों को साफ-साफ बताना चाहता हूं कि आपको इस तरह से तो आजादी नहीं मिलने वाली है। उन्होंने कहा कि इसलिए यह मेरी कश्मीर के युवकों से गुजारिश है कि वह बेहजह उस रास्ते पर ना जाएं।

आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षाबलों के हमले को लेकर कहा कि भारतीय सेना इतनी भी क्रूर नहीं है। उन्होंने कहा कि आप सीरिया या पाकिस्तान की आर्मी को देखेंगे तो आप जान जाएंगे की वहां की सेना ऐसे हालातों में टैंक और हवाई हमलें करने से भी पीछे नहीं हटती।आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा कि सेना को इन सब में कोई मजा नहीं आता है, लेकिन अगर सेना से लड़ेगे तो हम अपनी पूरी ताकत से आपको जवाद देंगे।

शांति की शर्त

आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा कि हम घाटी में सेना का ऑपरेशन रोकने के लिए तैयार है। लेकिन इस बात की क्या गारंटी है कि सेना के जवानों और गाड़ियों पर कोई हमला नहीं होगा।

जनरल रावत लेफ्टिनेंट उमर फयाज की हत्या को याद दिलाते हुए कहा कि कि जब हमारे जवान अपनी छुट्टियों में घर जाते है तो उनपर और उनके परिवारवालों पर हमला किया जाता हैं।
जनरल रावत ने कहा कि इस बात की अगर कोई गारंटी दे कि सेना के जवानों पर कोई हमला नहीं होगा तो हम घाटी में सेना के जारी ऑपरेशन रोकने के लिए तैयार है।

Read More:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here