पद्मावत में कट के बारे में खबरें पूरी तरह से झूठ: सेंसर बोर्ड

0
5

मुंबई। भारी विवाद के बाद ‘पद्मावत’ के रूप में आने वाली फिल्म पद्मावती एक बार फिर चर्चा में है। इसे 300 कट के बाद मंजूरी देने की खबरों को सेंसर बोर्ड ने भ्रामक बताया है। बोर्ड ने कहा कि निर्माता ने पूर्व में सहमत सिर्फ पांच बदलाव के बाद फाइनल फिल्म मंजूरी के लिए सौंपी थी। उसे यू/ए सर्टिफिकेट के साथ मंजूरी दे दी गई। यह फिल्म 25 जनवरी को देश के सिनेमाघरों में जारी होने की संभावना है। फिल्म दीपिका पादुकोण, रनवीर सिंह व शाहिद कपूर शामिल हैं। केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के चेयरमैन प्रसून जोशी ने उन खबरों का खंडन किया, जिनमें फिल्म में 300 कट लगाने का दावा किया गया था। जोशी ने कहा कि फिल्म को सर्टिफिकेट देने का काम पूरा हो चुका है। बोर्ड का नाम अनावश्यक विवादों में नहीं घसीटा जाना चाहिए।

खबरों में कहा गया था कि बोर्ड की मांग पर राजकमल स्टूडियो में बॉलीवुड के एक अग्रणी निदेशक ने बैठकर फिल्म में कांट-छांट कराई। यह भी कहा गया था कि बोर्ड ने विवादित फिल्म के निदेशक संजय लीला भंसाली को दिल्ली, चित्तौडग़ढ़ व मेवाड़ का जिक्र हटाने का निर्देश दिया था।

26 जनवरी पर रिलीज हो सकती है फिल्म पद्मावती
सेंसर बोर्ड फिलहाल जिस तरह से पद्मावती को लेकर काम कर रहा है, उससे लगता है कि विवादित फिल्म पद्मावती 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस पर थियेटर में आ सकती है। सूत्रों का कहना है कि सेंसर बोर्ड पद्मावती में कांटछांट करने के बाद रिलीज के लिए हरी झंडी दे सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here