पनीर या टोफू में से क्या खाएं?

0
24


आजकल पनीर का ही एक दूसरा रूप टोफू चलन में हैं। पनीर और टोफू दोनों ही प्रोटीन से भरपूर होते हैं, लेकिन दोनों में अलग-अलग प्रकार के अन्य पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। जब बात वजन घटाने की हो या फिर वजन को कंट्रोल में रखने की तो दोनों में से क्या खाना चाहिए, ये चुनने के लिए आपको दोनों के गुणों की तुलना करनी होगी। पनीर में फैट की मात्रा टोफू से अधिक होती है। इसलिए जो लोग कैलोरीज से ज्यादा टेस्ट को तरजीह देते हैं वे अपने खाने पनीर शामिल करें। टोफू को सोयाबीन मिल्क से बनता है। अगर आप वजन कम करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको पनीर की बजाए टोफू का प्रयोग करना चाहिए। टोफू में कैल्शियम और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होने के कारण इसे वे लोग भी खा सकते हैं, जिनको मिल्क प्रोडक्ट्स से एलर्जी होती है। डायटिंग करने वाले यदि पनीर के बजाए टोफू खाएं तो कुछ ही हफ्तों में उन्हें फर्क नजर आने लगेगा। टोफू को डायबीटीज एवं दिल के मरीज भी बेफिक्र होकर खा सकते हैं। यदि आप 100 ग्राम पनीर और टोफू की तुलना करें तो टोफू में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता, वहीं फुल क्रीम दूध से बने पनीर में 90 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...