पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आंधी का कहर, 16 की मौत, 22 घायल

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मौसम की मार जारी है. नौ जिलों में तूफान, बारिश और अंधड़ के चलते 16 लोगों और 22 जानवरों की मौत हो गई है, जबकि 25 लोग घायल हुए हैं. इसके साथ ही 6 घर भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं

उत्तर प्रदेश के रिलीफ कमिश्नर संजय कुमार ने कहा कि संबंधित जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं और ये सुनिश्चित करने को कहा गया है कि पीड़ितों को उचित मुआवजा मिले.

बता दें कि उत्तर भारत के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से जारी आंधी-तूफान का सिलसिला चल रहा है. मौसम विभाग के अनुसार, 13-14 मई को फिर ऐसे हालात बन सकते हैं.

जानकारी के मुताबिक मौसम का रुख पूर्वी इलाकों की ओर बढ़ गया है, जिसके बाद 23 राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है. इसका असर बिहार, पश्चिमी बंगाल, दिल्ली, यूपी, हरियाणा, राजस्थान, चंडीगढ़ और पूर्वोत्तर राज्यों में पड़ेगा. कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, आंध्र और तेलंगाना में भी गरज-चमक के साथ छींटे पड़ेंगे.

उधर, बुधवार को उत्तराखंड के केदारनाथ सहित कुछ इलाकों में फिर बर्फबारी हुई. हालांकि इसका चारधाम की यात्रा पर खास असर नहीं पड़ा. बुधवार को केदारनाथ में 4,770 श्रद्धालुओं ने पूजा-अर्चना की. इनमें से 844 यात्री सोनप्रयाग वापस आ गए.

बिन मौसम बारिश किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा रही है, तो वहीं आंधी-तूफान ने कई लोगों की जिंदगी छीन ली है. गृह मंत्रालय ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में भी आंधी-तूफान और ओलावृष्टि के साथ बारिश हो सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here