पहले फिल्मों से अब पंक्चुअलिटी से जीता करिश्मा ने फैंस का दिल

महानगर संवाददाता जयपुर। बॉलीवुड की बेहतरीन अभिनेत्रियों में शुमार होने वाली करिश्मा कपूर गुरुवार को शहर में मौजूद रहीं। वे यहां वैशाली नगर स्थित एक निजी स्टोर के उद्घाटन के लिए मौजूद रहीं। करिश्मा के आने की सूचना को लेकर वैशाली सर्किल पर काफी भीड़ मौजूद हो गई। करिश्मा ने 1991 में अपनी सबसे पहली फिल्म प्रेम कैदी से बॉलीवुड फिल्मों में कदम रखा था, जिसके बाद उनकी जोड़ी गोविंदा के साथ काफी फेमस हुई।

90 के दशक की इस बॉलीवुड सेंसेशन को लेकर आज भी कितना क्रेज है यह भीड़ को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता था। उन्होंने यहां लिनन क्लब में शिरकत करते हुए बताया कि उन्हें शादियों और पार्टी के दौरान सबसे कम्फर्टेबल और स्टाइलिश लिनन ही लगता है। सबसे पहले करिश्मा नियत समय पर एयरपोर्ट पहुंचीं ऐसे में वहां पर करिश्मा के फैन्स की भारी भीड़ लग गई। हर कोई उनकी एक झलक पाने को बेताब नजर आया।

करिश्मा अब फिल्मों में नजर नहीं आतीं लेकिन, कुछ टीवी विज्ञापनों, पार्टियों और संदीप तोषनीवाल के साथ अपने रिश्ते को लेकर चर्चा में रहती हैं।
अपने फैशन स्टेटमेंट को लेकर करिश्मा कपूर ने कहा कि हमारे समय के फैशन की बात ही कुछ ओर थी लेकिन इस समय ऐसे मैटेरियल और स्टफ मार्केट में हैं जो युवाओं को बेहद पसंद रहे हैं। फैशन में बदलाव भी आया है जो पुराने फैशन की तर्ज पर आधुनिकता को सपोर्ट करता है।

वहीं उन्होंने करिश्मा ने कहा कि वुमन ओरिएंटेड फिल्में पहले भी बना करती थी और आज भी बन रही है। मैंने खुद भी जुबैदा जैसी वुमन ओरिएंटेड फिल्में की हैं। समय के साथ इंडस्ट्री में मैंने ग्रो किया है। काफी कुछ सीखा है, काफी कुछ समझा है। मै समझती हूं कि अगर आप में हार्ड वर्क करने की क्षमता है,

आप में अपने पैशन के प्रति दृढ़ता है तो आप लम्बे समय तक बने रहते हैं। हार्डवर्क आपको सफलता जरूर दिलाता है। करिश्मा ने कहा कि मेरे लिए फैशन कम्फर्ट है। उन्होंने ये भी कहा दुनिया की हर लड़की खूबसूरत है। खूबसूरती के लिए साइज, कलर मैटर नहीं करता है। आप जैसे हैं वैसे ही खूबसूरत हैं।

उन्होंने कहा कि हमारे दौर में इंडस्ट्री में काफी स्ट्रगल हुआ करता था। हमने इंडस्ट्री का ब्लैक एंड वाइट शेड्स भी देखे हैं। आज के यूथ ज्यादा कम्फर्ट में हैं। उन्हें एक्सपोजर भी ज्यादा मिल रहा है।
हमारे वक्त में इतना एक्सपोजर, इतनी फैसिलिटी नहीं हुआ करती थी।
वैनिटी वैन की सुविधा नहीं मिला करती थी, न ही इतने अच्छे आउटफिट डिजाइनर्स, न ही इतने अच्छे मेकअप हुआ करते थे।

आज न्यू कमर्स के लिए इंडस्ट्री में हर चीज उपलब्ध है। आज के यूथ के लिए सब कुछ इजी है, हमारे लिए सब कुछ कर पाना इतना इजी नहीं था।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here