पीएनबी का डिफाल्टर होने का खतरा बढ़ा

0
76
नई दिल्ली। नीरव मोदी का पीएनबी घोटाला के बाद पंजाब नेशनल बैंक की मुश्किल कम होने का नाम नही ले रही हैं। पंजाब नेशनल बैंक पर अब डिफाल्टर होने का खतरा बढ़ गया हैं। भारतीय बैंकिंग इतिहास में ऐसा पहली होगा जब एक सरकारी बैंक दूसरे बैंक को डिफॉल्टर की कैटेगरी में डालेगा। समाचारों के अनुसार बताया जा रहा है कि पीएनबी की ओर से जारी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग के आधार पर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) ने करीब 1000 करोड़ रुपए का लोन दिया था।  जिनकी अदायगी 31 मार्च तक करनी है। अगर पीएनबी इस पैसे को सही समय तक वापस नहीं कर पाता है तो इसे डिफॉल्टर की कैटेगरी में डाल सकता हैं। यदि कोई बैंक डिफॉल्टर की सूची में है तो यह काफी मुश्किल स्थिती है। सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से इस संबंध में और स्पष्ट बयान की प्रतीक्षा करनी चाहिए। अगर 31 मार्च तक सरकार और आरबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) की मदद नहीं की, तो इसे डिफॉल्टर होने से कोई नहीं रोक सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...