नीरव मोदी से कर्ज वसूली पर अमरीकी कोर्ट की रोक

0
105

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े पीएनबी घोटाले के सूत्रधार नीरव मोदी को अमरीकी अदालत ने बड़ी राहत दी है। अमरीका की एक अदालत ने नीरव मोदी के स्वामित्व वाली कम्पनी फायरस्टार डायमंड से लेनदारों के कर्ज वसूली पर अंतरिम रोक लगा दी है। अमरीकी कोर्ट ने एक आदेश पारित करते हुए न्यूयॉर्क के दक्षिणी जिले की अमरीकी दिवालिया अदालत ने कहा कि दिवाला प्रक्रिया के आवेदन के साथ ही संग्रह से जुड़ी अधिकतर गतिविधियों पर खुद ही रोक लग गई है। अदालत ने कहा, इसका मतलब यह है कि लेनदार आमतौर पर कर्ज लेने वाले से और उसकी संपत्तियों से कर्ज वसूली के लिए कार्रवाई नहीं कर सकते हैं।
पंजाब नेशनल बैंक से धोखाधड़ी के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के पास फायर स्टार डायमंड और इसकी अन्य सहयोगी कम्पनियों में अधिकांश शेयरिंग हैं, जो कि उनकी अन्य कम्पनियों के जरिए ली गई। फायरस्टार डायमंड इंक ने न्यूयॉर्क दक्षिणी दिवालिया अदालत में चैप्टर 11 स्वैच्छिक याचिका दायर की थी। कम्पनी की वेबसाइट की मानें तो अमरीका, यूरोप, पश्चिम एशिया और भारत सहित कई देशों में उसका कारोबार फैला हुआ है। उसने अपनी मौजूदा स्थिति के लिए नकदी व आपूर्ति शृंखला में दिक्कतों को जिम्मेदार बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...