फिर ठंडे में बस्ते में लापता चिकित्सकों की तलाश

Doctor in front of a bright background

महानगर संवाददाता जयपुर। प्रदेश में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की बर्षों पहले नौकरी ज्वाइन कर एकाएक लापता हुए 150 चिकित्सको की तलाश एक बार फिर ठंडे बस्ते में दिखाई दे रही है।

कुछ दिन पहले ही चिकित्सा विभाग के आला अधिकारियों ने लापता चिकित्सकों तलाश के लिए जोर-शोर से अभियान चलाया था ,

इस अभियान के तहत जिलों के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को पत्र भी लिखे गए थे ,

अधिकारियों को अपने – अपने जिले के लापता चिकित्सकों की जानकारी देने के लिए कहा गया था ,

लेकिन यह अभियान इन दिनों महज औपचारिकता ही नजर आ रहा है।
गौरतलब है कि चिकित्सा विभाग में लापता चिकित्सकों की तलाश पिछले दस वर्षों से की जा रही है।

हर साल महज कुछ दिनों के लिए स्वास्थ्य विभाग लापता चिकित्सकों की तलाश करने के लिए अभियान चलाता है

और बाद में मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है।

लेकिन प्रदेश के 150 से अधिक लापता चिकित्सकों की तलाश अभी तक पूरी नहीं हो पाई है।

गौरतलब है कि ये लापता चिकित्सक ऐसे हैं

जिन्होंने स्वास्थ्य विभाग में चिकित्सक पद पर नौकरी तो ज्वाइन की लेकिन कुछ समय वे कभी

फिर स्वास्थ्य विभाग नहीं गए , सूत्रों की मानें तो कई लापता चिकित्सक प्रदेश में ही अपना खुद का अस्पताल चला रहे हैं

और कुछ विदेश मे नौकरी कर रहे हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग अभी लापता चिकत्सकों की तलाश पूरी नहीं कर पाया है।

अभी तक नहीं भेजी जानकारी

दरअसल स्वास्थ्य विभाग ने नौकरी में लंबे समय से लापता चल रहे चिकित्सकों की तलाश लगभग दस साल पहले शुरू की ।

लेकिन कुछ समय बीतने के बाद लापता चिकित्सकों की तलाश की फाइल को बंद कर फाइल को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया।
इस साल हाल ही में लापता चिकित्सकों की तलाश की फाइल फिर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के पास पहुंची तो
वे लापता चिकित्सकों की तलाश में फिर जुट गए ,
स्वास्थ्य विभाग के जनस्वास्थ्य निदेशक डॉ. वी के माथुर ने इसके लिए सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को पत्र भी लिखकर भेजे
लेकिन अभी तक जिल के चिकित्सा अधिकारियों ने लापता चिकित्सकों की जानकारी नहीं भेजी ।
इस मामले में स्वास्थ्य विभाग के जनस्वास्थ्य निदेशक का कहना है

अभी इस मामले को देखा जा रहा है इसके बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

बहरहाल लापता चिकित्सकों की तलाश कब तक पूरी हो पाएगी ये तो आने वाला समय ही बताएगा।

लेकिन अभी यह मामला ठंडे बस्ते में ही दिखाई दे रहा है।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...