फ्रांस राष्ट्रपति एवं ब्रिटिश विदेशी मंत्री में तकरार

0
102


नई दिल्ली। भारतीय प्रतिभा का लोहा दुनिया में माना जाता हैं। विदेशी शिक्षा को लेकर भारतीय छात्रों में भी उत्साह नजर आता हैं। हाल ही में भारत आए फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने छात्रों से वार्ता के दौरान यूरोप में फ्रांस को एक नया प्रवेशद्वार बताया। इस बात को लेकर ब्रिटेन थोड़ा परेशान हो गया। सोशल मीडिया पर ब्रिटिश विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन एवं मैकों के बीच तकरार हो गई। उनके इस प्रस्ताव को यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के बाहर होने के परिप्रेक्ष्य में देखा गया। जबकि मैक्रो फ्रांस आनेवाले भारतीय छात्रों की संख्या दुगनी करना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...