बदमाश पर हाथ डालने से बच रही है यूपी पुलिस

लखनऊ:बेशक यूपी में अभी तक 1150 से अधिक एनकाउंटर हो चुके हैं. दर्जनों बदमाश मारे जा चुके हैं. बहुत सारे घायल भी हुए हैं. लेकिन यूपी में ही आधा दर्जन ऐसे भी बदमाश हैं जो अभी तक पुलिस की पहुंच से दूर हैं. जबकि इनके सिर पर यूपी सरकार की ओर से 1 लाख रुपये से लेकर 2 लाख रुपये तक का ईनाम है. सूत्रों की मानें तो बदमाशों के पास मौजूद एके-47 रायफल पुलिस की राह में रोड़ा बनी हुई है.

यूपी की एसटीएफ (स्पेशल टॉस्क फोर्स) ने कुछ समय पहले यूपी के टॉप 10 बदमाशों की एक लिस्ट बनाई थी. लिस्ट में शामिल एक ईनामी बदमाशा बलराज भाट्टी हाल ही में एनकाउंटर में मारा जा चुका है. लेकिन लिस्ट में शामिल दूसरे नाम बाबुली कोल, कौशल कुमार चौबे, साहबउद्दीन और बिल्लू दुजाना आदि अभी भी पुलिस से बचे हुए हैं.

जबकि जानकारों का कहना है कि बाबुली कोल तो दो बार पुलिस के सामने से ही बचकर भाग चुका है. कौशल कुमार चौबे और बिल्लू दुजाना भी पुलिस की नाक में दम किए हुए हैं. सूत्रों का कहना है कि एसटीएफ की जांच में सामने आया है कि इन कुख्यात गैंगस्टर के पास एके-47 रायफल है. हर एक के गिरोह में 2 से 3 एके-47 रायफल होने की बात सामने आ रही है.

इसी तरह से ये बात भी सामने आ रही है कि बलराज भाट्टी के पास भी एके-47 रायफल थी. लेकिन उसका एनकाउंटर उस वक्त हुआ जब उसके पास एके-47 नहीं थी. एके-47 के चलते कुख्यात गैंगस्टरों की आक्रमकता को देखते हुए ही एसटीएफ सीधे कुख्यातों पर हाथ नहीं डालना चाहती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here