बाराबंकी के इस गांव में लगे पोस्टर- यह सवर्णों का गांव है, वोट मांगकर शर्मिंदा न करें

0
63

बाराबंकी। एससी-एसटी एक्ट का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. बाराबंकी के गांव गंज बस्ती में घर-घर पोस्टर लगाकर सवर्णों ने इसका विरोध जताया है.

इस विरोध में राष्ट्रीय हिंदू एक्शन कमेटी और राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा के कार्यकर्ता शामिल हुए. लोगों ने बैनर लगाया और लिखा कि यह गांव सवर्णों का है और एक्ट का समर्थन करने वाले राजनीतिक दलों के नेता वोट मांग कर उन्हें शर्मिंदा न करें.

साथ ही कहा गया है कि सभी राजनीतिक पार्टियों का प्रवेश यहां वर्जित है. अप्रिय घटना हो सकता है, जिसके जिम्मेदार वह खुद होंगे. एससी एसटी एक्ट के विरोध में मुखर होते हुए इन लोगों का कहना है कि वह केंद्र सरकार के फैसले का विरोध करेंगे और आने वाले चुनाव का बहिष्कार करेंगे.

राष्ट्रीय हिंदू एक्शन कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास मिश्रा और राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा के प्रदेश महासचिव आशीष दीक्षित ने कहा कि सरकार ने हम लोगों पर काला कानून थोप दिया है.

सरकार सवर्णों को इस तरह से नजरअंदाज नहीं कर सकती. उन्होंने मांग की है कि सवर्णों के लिए आयोग का गठन हो. कहा कि अजमल कसाब जैसे आतंकी के लिए जब पूरी प्रक्रिया से जांच हुई तो हम लोगों पर इस तरह से यह फैसला क्यों थोपा जा रहा है.

राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा के महासचिव ने कहा कि यह पूरा गांव सवर्णों का है और हम लोग एससी/एसटी का कड़ा विरोध कर रहे हैं

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...