बिटकॉइन कीमतों में 17 फीसदी की गिरावट, रिपल भी लुढ़का

0
84

नई दिल्ली। क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन की कीमतों में गिरावट दर्ज की गई है। साउथ कोरिया तथा चीन एक्सचेंज्स में बिटकॉइन सहित अन्य क्रिप्टोकरेंसीज पर रेगुलशन खड़ा करने के बाद बिटकॉइन कीमतें पिछले दो सप्ताह में सबसे निचले स्तर पर आ गईं हैं। आपको बता दें कि बिटकॉइन कीमतों में 17 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।
गौरतलब है कि पिछले साल बिटकॉइन की कीमत एक हजार डॉलर थी, जो साल के अंत में बढ़कर 20 हजार डॉलर के पास पहुंच गई। साल बीते अभी सप्ताहभर भी नहीं हुए कि बिटकॉइन कीमतें तेजी से लुढ़क गई। पिछले दिनों केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने बिटकॉइन कीमतों को लेकर चेतावनी जारी करते हुए कहा था कि बिटकॉइन कोई लीगल मुद्रा नहीं है। बिटकॉइन पानी के बुलबुले के समान है, जो कभी भी पिचक सकता है।

कीमतें गिरने की वजह
साउथ कोरिया ने अपने एक्सेचेंज्स से बिना किसी चेतावनी के बिटकॉइन को हटा दिया था। अचानक इस कार्रवाई के बाद बिटकॉइन की कीमतों में गिरावट दर्ज गई। हांलाकि सोमवार को यह खबर आई थी कि साउथ कोरिया का प्रशासन उन 5 बैंकों की जांच कर रहा है, जिन पर कुछ बड़े संस्थानों और कंपनियों को वर्चुअल करंसी में अकाउंट खुलवाने के लिए आॅफर देने का आरोप लगा था। साउथ कोरिया के ऐक्शन का सबसे ज्यादा नुकसान XRP को ही बताया जा रहा है। आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि भारत में भी बिटकॉइन कारोबार ने धूम मचा रखी है। हालांकि इस कारोबार से जुड़े खतरे के संबंध में सरकार पहले ही चेतावनी जारी कर चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...