बीजेपी और कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन, दोनों पक्षों में दिनभर का घटनाक्रम

दरअसल, आज दिन भर के राजनीतिक घटनाक्रम में सबसे अहम कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के नेताओं द्वारा राज्यपाल वजूभाई वाला से मुलाकात कर सरकार गठन के अपने दावे पर जोर देना रहा। जानकारी के मुताबिक राज्यपाल को 117 विधायकों की सूची सौंपी गई है।

इसी बीच कर्नाटक के मुद्दे पर विशेषज्ञों ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। संविधान विशेषज्ञ गोविंद गोयल का कहना है कि कर्नाटक के राज्यपाल वजू भाई वाला अभी क्या फ़ैसला लेंगे यह सोचना जल्दबाजी होगी। उनके पास सबसे बड़े दल या गठबंधन जिनके पास सबसे अधिक विधायक होंगे उन्हें सरकार बनाने का निमंत्रण देने का विकल्प भी है।

गोविंद ने कहा कि संवैधानिक परम्परा के अनुसार सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए पहले बुलाया जाना चाहिए, लेकिन मणिपुर और गोवा जैसे राज्यों में अतीत में कुछ गलतियां भी हुई हैं।

गोयल ने कहा कि राज्यपाल को नई सरकार की संभावना तलाशने के लिए पहले सबसे बड़े दल को आमंत्रित करना चाहिए कि वे सरकार बनाना चाहते है या नहीं। अगर वे मना कर दे तो ऐसी स्थिति में कांग्रेस-जेडीएस को सरकार बनाने का निमंत्रण देना चाहिए।

बकौल गोयल ‘इस मामले में राज्यपाल अपने विवेक का इस्तेमाल करने के लिए स्वतंत्र हैं। जो भी दल या गठबंधन स्थिर सरकार प्रदान करने की स्थिति में होगा उसको ध्यान में रखकर सरकार बनाने के लिए आमंत्रण दिया जाएगा।’

इससे पहले बुधवार शाम कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस प्रमुख परमेश्वर ने कहा कि राज्यपाल ने उन्हें आश्वस्त किया कि वह संविधान, उच्चतम न्यायालय के फैसलों और परंपराओं के अनुसार कार्य करेंगे। दिनभर के घटनाक्रम पर एक नजर:

राज्यपाल से मुलाकात के बाद जेडीएस के सीएम पद प्रत्याशी एचडी कुमारस्वामी ने पत्रकारों से बात की। उन्होंने कहा कि राज्यपाल से संविधान सम्मत कार्रवाई का आश्वासन मिला है।

कर्नाटक के निवर्तमान मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा कि कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन के पास 117 विधायक हैं और राज्यपाल वजुभाई वाला को उन्हें सरकार बनाने का मौका देना होगा।
दोपहर 12.15 बजे : एच डी कुमारस्वामी जेडीएस के विधायक दल के नेता चुने गए।

दोपहर 12.15 बजे : बी एस येदियुरप्पा भाजपा विधायक दल के नेता चुने गए। उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की और इस पद के लिए अपने निर्विरोध निर्वाचन के बारे में उन्हें पत्र सौंपा। जानकारी के मुताबिक सिद्धरमैया ने राज्यपाल से कहा कि सिंगल लार्जेस्ट पार्टी के आधार पर उन्हें मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लिए कहा जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...