बैडमिंटन : ऑस्ट्रेलिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे समीर -प्रणीत

कैनबरा। भारत के बैडमिंटन खिलाड़ी समीर वर्मा और बी साई प्रणीत ने अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए ऑस्ट्रेलिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। समीर ने गुरुवार को पुरुष एकल वर्ग के प्री-क्वार्टर फाइनल में जापान के ताकुमा यूडा को मात दी, वहीं इंडोनेशिया के पणजी अहमद मौलाना को हराया।

वर्ल्ड नम्बर-25 समीर ने अंतिम-16 दौर में ताकुमा के खिलाफ मिली जीत के साथ ही अपने भाई सौरभ की हार का बदला भी पूरा कर लिया। ताकुमा ने बुधवार को पहले दौर में सौरभ को मात देकर बाहर का रास्ता दिखाया था।

समीर ने वर्ल्ड नम्बर-104 ताकुमा को 37 मिनट के भीतर सीधे गेमों में 21-16, 21-12 से मात देकर अंतिम-8 में जगह बनाई है, जहां उनका सामना चीन के खिलाड़ी लु गुआंग्जु से होगा।
वर्ल्ड नम्बर-17 प्रणीत ने प्री-क्वार्टर फाइनल में इंडोनेशिया के पणजी अहमद मौलाना को 32 मिनट के भीतर सीधे गेमों में 21-12, 21-14 से मात दी।

इसके अलावा, पुरुष युगल वर्ग में मनु अत्री और बी. सुमित रेड्डी की जोड़ी को भी सफलता मिली है। मनु और सुमित ने दक्षिण कोरिया की ह्युक ग्यून चोई और पार्क क्युंग हून की जोड़ी को 35 मिनट में 21-17, 21-17 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है।

हालांकि, महिला एकल वर्ग में वैष्णवी रेड्डी जाक्का को हार का सामना कर टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा। अंतिम-16 दौर में वैष्णवी को चीन की हान युई ने 21 मिनट में 21-5, 21-5 से मात देकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश हासिल किया है।

पुरुष एकल वर्ग में भारत को सफलता हासिल हुई है। एम.आर.अर्जुन और रामचंद्रन श्लोक की जोड़ी ने 46 मिनट तक चले रोमांचक मैच में जापान की हिरोकी ओकामुरा और मसायुकी ओनोडेरा की जोड़ी को 21-15, 25-23 से मात देकर अंतिम-8 में जगह बना ली है।

मिश्रित युगल वर्ग में पूर्विशा एस. राम और शिवम शर्मा की जोड़ी को हार मिली हा। दक्षिण कोरिया की चान पेंग सून और लियु यिंग गोह की जोड़ी ने भारतीय जोड़ी को 27 मिनट के भीतर सीधे गेमों में 21-6, 21-13 से हराते हुए बाहर का रास्ता दिखाया।

महिला युगल वर्ग में जाकमापुड्डी मेघना और पूर्विशा की जोड़ी को भी निराशा हाथ लगी है। उन्हें जापान की मिकी काशीहारा और मियुकी काटो की जोड़ी ने 30 मिनट के भीतर 11-21, 13-21 से मात दी।

 

Read More:बैडमिंटन : चेन युफेई को हराकर ताइवान की ताई जु यिंग ने जीती एशियाई चैम्पियनशिप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...