भरतपुर शहर की रेटिंग में आया 110 अंकों का सुधार

0
68

महानगर संवाददाता
आमजन की स्वच्छता के प्रति सकारात्मक सोच लाई रंग
भरतपुर। राष्ट्रीय स्तर पर स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 का कार्य किया गया जिसमें देशभर के 500 शहरों की स्वच्छता रेटिंग तय की गई। इसके पूर्व सर्वेक्षण में भरतपुर जिले की रेटिंग 371वें पायदान पर थी।
इसके पश्चात शहर में दो चरणों में 16 सितम्बर एवं 10 दिसम्बर को चलाए गए ‘एक दिन में स्वच्छ भरतपुरÓ अभियान के कारण जिले की रेटिंग में 110 अंकों का सुधार हुआ है। नवीन सर्वेक्षण में भरतपुर की रेटिंग 261वें पायदान पर रही है जिसमें शहरवासियों का अप्रत्याशित योगदान रहा है।
यूं तो भरतपुर विश्व पर्यटन मानचित्र पर है और यहां आने वाले देशी-विदेशी पर्यटक जब भरतपुर शहर में प्रवेश करते हैं तो यहां की सफाई को देखकर उनके मन में एक अजीब सा अहसास पैदा होता था लेकिन जिस तरह 16 सितम्बर एवं 10 दिसम्बर को चलाए गए ‘एक दिन में स्वच्छ भरतपुरÓ अभियान के कारण शहर की स्वच्छता एवं सौंदर्य में आए निखार से निश्चय ही पर्यटकों के मन में भरतपुर के प्रति सकारात्मक भाव पैदा होगा।

इस अभियान में जिला प्रशासन के साथ-साथ स्वयंसेवी, व्यापारिक, सामाजिक संगठनों से बड़ी संख्या में व शहर के आमजनों ने शहर को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दिया।

इस अभियान को राज्य स्तर पर ही नहीं वरन राष्ट्रीय स्तर पर सराहा गया और इसको मॉडल के रूप में अन्य राज्यों ने भी अपनाया। इस अभियान को देखते हुए जिले की अन्य नगर पालिकाओं ने भी अपने-अपने स्तर पर भी एक दिवसीय स्वच्छता अभियान चलाकर जिले की स्वच्छता रेटिंग में आए परिवर्तन में अपना योगदान दिया।

पूरे शहर में चला सफाई अभियान : अभियान के तहत शहर में अतिरिक्त संसाधन लगाकर शहर में सफाई की गई तथा अपना घर सेवा समिति द्वारा शहर के शमशान घाटों की सफाई कराई गई, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा बड़ी संख्या में स्वयंसेवक जुटाए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...